Home /News /jharkhand /

कृषि कानून वापसी पर बोले हेमंत सोरेन- पहले गला दबाते हैं, फिर गले लगाते हैं, चुनाव को देख लिया गया निर्णय

कृषि कानून वापसी पर बोले हेमंत सोरेन- पहले गला दबाते हैं, फिर गले लगाते हैं, चुनाव को देख लिया गया निर्णय

 झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरोन ने केंद्र सरकार द्वारा कृषि कानून वापस लेने के निर्णय को हास्यास्पद करार दिया है.  (फाइल फोटो)

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरोन ने केंद्र सरकार द्वारा कृषि कानून वापस लेने के निर्णय को हास्यास्पद करार दिया है. (फाइल फोटो)

Modi Government withdrew Agricultural Laws: मोदी सरकार द्वारा कृषि कानून वापस लेने पर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि किसान आंदोलन में मारे गए लोगों को 5 - 5 करोड़ रुपये मुआवजा दी जाए. इसके साथ ही मृतक के परिजनों को नौकरी और खेती नहीं कर पाने वाले किसानों को 10 - 10 लाख दिए जाएं. आंदोलन के दौरान दर्ज मुकदमा भी केंद्र सरकार वापस ले. किसानों का हितैषी बनने का ढोंग नहीं चलेगा.

अधिक पढ़ें ...

रांची. विवादित कृषि कानून पर केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. अब यह कानून वापस लिए जाने की घोषणा कर दी गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने गुरुपर्व के मौके पर देश को संबोधित करते हुए घोषणा की कि केंद्र सरकार तीनों कृषि कानून (Three Farm Laws) को वापस लेगी और आगामी संसद सत्र (Parliament Session) में इस बारे में जरूरी प्रक्रिया पूरी की जाएगी. पीएम मोदी के इस बड़े ऐलान पर विभिन्न वर्गों से प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं. कृषि कानून को लेकर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस फैसले को हास्यास्पद करार दिया है. हेमंत सोरेन ने कहा कि भविष्य की राजनीति और चुनाव को देख कर निर्णय लिया गया है.

सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि पहले गला दबाते हैं, फिर गले लगाते हैं. हेमंत सोरेन ने कहा कि किसान आंदोलन में मारे गए लोगों को 5 – 5 करोड़ रुपये मुआवजा दी जाए. इसके साथ ही मृतक के परिजनों को नौकरी और खेती नहीं कर पाने वाले किसानों को 10 – 10 लाख दिए जाएं. आंदोलन के दौरान दर्ज मुकदमा भी केंद्र सरकार वापस ले. किसानों का हितैषी बनने का ढोंग नहीं चलेगा.

वहीं, कृषि कानून वापसी को लेकर जामताड़ा से कांग्रेस विधायक इरफान अंसारी ने कहा, मोदी का घमंड हारा राहुल की मेहनत जीती. सभी शाहिद किसान भाइयों को मेरी श्रधांजलि. आंदोलनकारी किसानों को जीत की बधाई. दुनिया झुकती है, बस झुकाने वाले चाहिए.

बता दें कि इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कृषि कानून वापस लिए जाने के ऐलान पर कहा कि यह प्रधानमंत्री जी का निर्णय था और यह तीनों कानून संसद से पास हुआ था. ये निर्णय उन्हीं का है इसलिए इस पर कोई प्रतिक्रिया हो नहीं सकती. उन्होंने सबकुछ स्पष्ट किया है.

गौरतलब है कि इससे पहले पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा, ‘किसानों की स्थिति सुधारने के महाअभियान में तीन कृषि कानून लाए गए थे. मकसद ये था कि छोटे किसानों को और ताकत मिले और उन्हें उपज का सही दाम मिले. बरसों से ये मांग, देश के कृषि विशेषज्ञ, संगठन और वैज्ञानिक कर रहे थे. पहले भी कई सरकारों ने मंथन किया था. इस बार भी संसद में चर्चा हुई और कानून लाएंगे. देश के कोने-कोने में कोटि-कोटि किसान संगठनों ने स्वागत किया और समर्थन किया. मैं आज उन सभी का समर्थन के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूं.’

पीएम ने कहा कि ‘हमारी सरकार खासकर छोटे किसानों के कल्याण के लिए गांव-गरीब के उज्जवल भविष्य के लिए पूरी सत्य निष्ठा से हमारी सरकार ये कानून लेकर आई है. हम अपने प्रयासों के बावजूद कुछ किसानों को समझा नहीं पाए भले ही किसानों का एक वर्ग ही विरोध कर रहा था. वैज्ञानिकों, कृषि कानून विशेषज्ञों ने उन्हें समझाने का प्रयास किया. हमने किसानों की बातों और उनके तर्कों को समझने में भी कोई कोर कसर नहीं बाकी रखा. कानून के जिन प्रावधानों पर उन्हें ऐतराज था, उस पर भी बात की. मैं आज देशवासियों से क्षमा मांगते हुए कहना चाहता हूं कि हम कुछ किसानों को समझा नहीं पाए.’

देशवासियों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘मैंने जो कुछ भी किया, सब किसानों के लिए किया. मैं जो कुछ भी कर रहा हूं, देश के लिए कर रहा हूं. देशवासियों के आशीर्वाद से मैंने अपनी मेहनत में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रखी है. आज मैं आपको आश्वासन देता हूं कि मैं और ज्यादा कड़ी मेहनत करूंगा. ताकि आपके सपने और राष्ट्र के सपने पूरे हो सकें.’

पीएम मोदी ने कहा कि हमने तीनों कृषि कानून वापस लेने का फैसला किया है. इसकी प्रक्रिया आगामी संसद सत्र से इस महीने शुरू होगी. मैं किसानों से अपील करता हूं कि अपने घर लौट जाए और नए सिरे से शुरुआत करें.

Tags: Agricultural Law, Agricultural Law Protest, Agricultural laws, Central government, CM Hemant Soren, Hemant soren, Kisan Aandolan, Modi government, Narendra Modi Government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर