Assembly Banner 2021

खुद की पगड़ी से बने फंदे पर लटक गया झारखंड का हॉकी खिलाड़ी गुरुशरण, जांच में जुटी पुलिस

पुलिस मामले की जांच कर रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

पुलिस मामले की जांच कर रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

जानकारी के मुताबिक, गुरुशरण ने अपने कमरे में पगड़ी से फंदे से लटकर खुदकुशी (Suicide) कर ली. पुलिस (Police) को मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है.

  • Share this:
रांची. कोरोनाकाल (COVID-19) में आत्महत्या का दौर थमने का नाम नही ले रहा. आए दिन झारखंड में भी कोई न कोई मौत को गले लगा रहा है. कुछ ऐसी ही तस्वीर रांची के डोरंडा थाना क्षेत्र में देखने को मिली जहां एक हॉकी खिलाड़ी और एजी ऑफिस में कार्यरत गुरुशरण ने मौत (Suicide) को गले लगा लिया. मौत का साजो सामान बनी उसकी खुद की पगड़ी. अपनी की पगड़ी से बने फांसी के फंदे पर लटक खिलाड़ी ने जान दे दी. गुरुशरण की मौत से सभी हौरान हैं. वहीं पुलिस अब खुदकुशी के पीछे की वजह तलाशने में जुट गई है.

हॉकी के मैदान में अपने विरोधी टीम को हर मोर्चे पर शिकस्त देने वाले राष्ट्रीय स्तर के हॉकी खिलाड़ी गुरुशरण सिंह आज खुद जिंदगी की बाजी हार गए. अपने ही कमरे में पंखे से झूलती हुई उनकी बॉडी मिली. गुरुशरण ने अपने ही पगड़ी को मौत का फंदा बना मौत को गले लगाया. गुरुशरण की मौत की खबर से इलाके के लोग सकते में हैं और उनके साथी खिलाड़ी मायूस. साथियों का कहना है कि आखिर जो इंसान हार नहीं मानता था वो इस तरह दुनिया को अलविदा कैसे कह सकता है. राजन सिंह ने बताया कि गुरुशरण के बड़े भाई ने उन्हें फोन कर गुरुशरण से बात न होने की बात बताई थी. जब वो गुरुशरण के कमरे में पहुंचे तो गुरुशरण को पंखे से टंगा देखा. इसके बाद उन्होंने मामले की जानकारी पुलिस को दी.

ये भी पढ़ें: भोजपुरी सिनेमा को मिलेगी नई सौगात, बनेगी फिल्म सिटी, खेसारी लाल करेंगे शूटिंग



पुलिस जांच में जुटी
मामले की जानकारी मिलने के बाद डोरंडा पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और पूरे मामले की तफ्तीश में जुट गई. थाना के एसआई शशि रंजन ने बताया कि मृतक ने कोई सुसाइड नोट नहीं छोड़ा है. इस कारण पुलिस हर बिंदु पर तफ्तीश कर रही है. वहीं पोस्टमार्टम रिपोर्ट और परिजनों से पूछताछ के बाद ही किसी ठोस नतीजे पर पहुंचने की बात कहती पुलिस नज़र आई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज