होम /न्यूज /झारखंड /ओलंपियन निक्की प्रधान को मिला आउट ऑफ टर्न प्रमोशन, रेलवे में बनीं गजेटेड अफसर

ओलंपियन निक्की प्रधान को मिला आउट ऑफ टर्न प्रमोशन, रेलवे में बनीं गजेटेड अफसर

निक्की प्रधान अब रेलवे में गजेटेड अफसर बन गई हैं. (फाइल फोटो)

निक्की प्रधान अब रेलवे में गजेटेड अफसर बन गई हैं. (फाइल फोटो)

रांची रेल मंडल ने ओलंपियन निक्की प्रधान (Nikki Pradhan) को मुख्य यार्ड मास्टर से ओएसडी, स्पोर्ट्स अधिकारी के पद पर आउट ...अधिक पढ़ें

    रांची. टोक्यो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन करने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी निक्की प्रधान (Nikki Pradhan) को रेलवे ने आउट ऑफ टर्न प्रमोशन दिया है. निक्की प्रधान को मुख्य यार्ड मास्टर से ओएसडी, स्पोर्ट्स अधिकारी के पद पर प्रोन्नति दी गई है. वहीं सलीमा टेटे के प्रमोशन की भी प्रक्रिया आखिरी चरण में है. दक्षिण-पूर्व रेलवे की महाप्रबंधक अर्चना जोशी के अनुमोदन पर रांची रेल मंडल ने निक्की प्रधान को प्रमोशन दिया है. इसके साथ ही वो ग्रुप बी राजपत्रित अधिकारी बन गई हैं.

    रांची रेलमंडल के डीआरएम प्रदीप गुप्ता ने बताया कि रेलवे लगातार बेहतर खेलने वाले खिलाड़ियों को उत्साहित करता रहता है. ओलंपिक मुकाबले में टॉप फोर में रहने वाले अकेले खिलाड़ी या फिर टीम के खिलाड़ियों को प्रमोशन देने का नियम है.

    निक्की प्रधान, 13 मार्च 2012 से रांची रेल मंडल के परिचालन विभाग में कार्यरत हैं. इन्होंने अंडर-17 एशिया कप 2011, अंडर 21 एशिया कप 2012, रियो ओलंपिक 2016, एशिया कप 2017, एशियन गेम 2018 एवं टोक्यो ओलिंपिक 2020 में भारत का प्रतिनिधित्व किया है.

    सलीमा टेटे 6 नवंबर 2019 को रेलवे में योगदान देकर रांची रेल मंडल के वाणिज्य विभाग में टिकट निरीक्षक के रूप में कार्यरत हैं. इन्होंने सातवीं हॉकी इंडिया जूनियर नेशनल वीमेन हॉकी चैंपियनशिप 2017, आठवीं हॉकी इंडिया जूनियर नेशनल वीमेन हॉकी चैंपियनशिप 2018, यूथ ओलंपिक 2019, अंडर-23 छठा राष्ट्रीय आमंत्रण टूर्नामेंट 2018 एवं टोक्यो ओलिंपिक 2020 में शामिल रही हैं और अपने खेल से लोगों को मोहित किया है.

    टोक्यो ओलंपिक खेलकर लौटने के बाद दोनों खिलाड़ियों को रांची रेल मंडल द्वारा सम्मानित किया गया था. झारखंड सरकार ने भी दोनों खिलाड़ियों को 50-50 लाख का चेक देकर सम्मानित किया था.

    Tags: Indian railway, Indian women hockey team, Tokyo Olympics

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें