Home /News /jharkhand /

रिम्स में भर्ती लालू यादव पर कैसे मंडराया कोरोना का खतरा? जानें पूरी कहानी

रिम्स में भर्ती लालू यादव पर कैसे मंडराया कोरोना का खतरा? जानें पूरी कहानी

लालू यादव के करीबी दोस्त शिवानांद तिवारी ने बातचीत में उन्हें पार्टी में नजरअंदाज करने के संकेत दिए. (फाइल फोटो)

लालू यादव के करीबी दोस्त शिवानांद तिवारी ने बातचीत में उन्हें पार्टी में नजरअंदाज करने के संकेत दिए. (फाइल फोटो)

रिम्स निदेशक ने कहा कि गाइडलाइन के अनुसार अगर डॉ उमेश प्रसाद या उनके कोई भी डॉक्टर या स्टाफ, जो लालू प्रसाद (Lalu Yadav) के पास जाते थे, की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव (Corona Positive) आयी, तो फिर लालू प्रसाद का सैम्पल लिया जाएगा.

    रांची. झारखंड की राजधानी रांची स्थित रिम्स (RIMS) अस्पताल में भर्ती राजद सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद (Lalu Yadav) पर कोरोना संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है. दरअसल सोमवार को झारखंड में कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) पाए गए 20 लोगों में से एक रिम्स में डॉ. उमेश प्रसाद के वार्ड में भर्ती मरीज है. डॉ उमेश प्रसाद की ही यूनिट लालू प्रसाद का भी इलाज करती है. ऐसे में आरजेडी सुप्रीमो तक कोरोना संक्रमण का अंदेशा पैदा हो गया है. वैसे संक्रमित मरीज को तत्काल वार्ड से कोविड-19 सेंटर भेज दिया गया. वहीं डॉ. उमेश प्रसाद की यूनिट के सभी डॉक्टर, नर्सों और गार्ड की कोविड जांच के लिए सैंपल लिए गए हैं.

    फिलहाल डॉक्टर दूर से ही लालू का करेंगे इलाज 

    चार घोटाले में सजा काट रहे लालू प्रसाद का कोर्ट के आदेश पर रिम्स में इलाज चल रहा है. लेकिन अब डॉ उमेश प्रसाद और उनकी टीम के डॉक्टर लालू प्रसाद के पास जाकर इलाज नहीं करेंगे. डॉ उमेश प्रसाद और उनके टीम के अन्य डॉक्टर व नर्स की रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही वे लालू प्रसाद के करीब जा सकेंगे.

    मेडिसिन वार्ड में भर्ती बुजुर्ग निकला कोरोना पॉजिटिव

    डॉ उमेश प्रसाद ने न्यूज-18 से कहा कि कुछ दिन पहले पुलिस एक बुजुर्ग को लेकर रिम्स पहुंची थी. उसका इलाज उनके ही मेडिसिन वार्ड में चल रहा है. उसी मरीज की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है. डॉ उमेश प्रसाद ने कहा कि पॉजिटिव मरीज को मेडिसिन वार्ड से कोविड सेंटर भेज दिया गया है. वहीं 20 से ज्यादा डॉक्टर, नर्स और पारा मेडिकल स्टाफ ने अपने सैंपल जांच के लिए भेजे हैं. लालू प्रसाद की सेहत को स्थिर बताते हुए डॉ उमेश प्रसाद ने कहा कि कोविड रिपोर्ट आने तक वह लालू प्रसाद को डायरेक्ट नहीं देखेंगे. फोन से ही लालू प्रसाद के स्वास्थ्य की जानकारी लेकर सलाह दिया करेंगे.

    लालू प्रसाद का भी लिया जा सकता है सैंपल

    रिम्स के निदेशक डॉ डीके सिंह से जब पूछा गया कि क्या लालू प्रसाद की भी कोरोना जांच के लिए स्वाब लिया जाएगा, तो रिम्स निदेशक ने कहा कि गाइडलाइन के अनुसार अगर डॉ उमेश प्रसाद या उनके कोई भी डॉक्टर या स्टाफ, जो लालू प्रसाद के पास जाते थे, उनकी कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आयी, तो फिर लालू प्रसाद का सैम्पल लिया जाएगा.

    पैरोल देने पर सरकार नहीं ले पाई फैसला 

    बता दें कि हेमंत कैबिनेट की बैठक में लालू प्रसाद को पैरोल देने का राज्य के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने प्रस्ताव लाया था. कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए राज्य सरकार उन्हें पेरोल देना चाहती थी. इस पर महाधिवक्ता की राय भी ली थी, लेकिन कोई फैसला नहीं लिया जा सका. लालू प्रसाद रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती है. वह 12 से ज्यादा बीमारियों से ग्रसित हैं. इसी वार्ड में कोरोना संदिग्धों के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है. वार्ड बनने के बाद लालू प्रसाद ने खौफ में बाहर टहलना भी छोड़ दिया है.

    रिपोर्ट- उपेन्द्र कुमार

    ये भी पढ़ें- लालू का इलाज कर रहे डॉक्टर क्वारंटाइन, रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो...

    Tags: Corona infection, Corona patients, Jharkhand news, Lalu Prasad Yadav, Ranchi news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर