Home /News /jharkhand /

सावधान! मानव तस्करों ने बदला पैंतरा, अब फिल्मों में काम दिलाने का झांसा देकर बढ़ा रहे धंधा

सावधान! मानव तस्करों ने बदला पैंतरा, अब फिल्मों में काम दिलाने का झांसा देकर बढ़ा रहे धंधा

मानव तस्कर अब सोशल मीडिया पर एक्टिव होकर नाबालिग बच्चियों को टारगेट कर रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

मानव तस्कर अब सोशल मीडिया पर एक्टिव होकर नाबालिग बच्चियों को टारगेट कर रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Human Trafficking: रांची बाल कल्याण समिति के सदस्य बैजनाथ ने बताया कि मानव तस्कर सोशल साइट्स पर एक्टिव होकर खासकर वैसे बच्चों को ज्यादा निशाना बना रहे हैं, जो टिक टॉक और MOJ जैसे साइट्स पर अपना वीडियो बनाकर पोस्ट करते हैं. उन्हें फिल्मों में काम दिलाने के नाम पर मुम्बई बुलाते हैं और वहां सेक्स रैकेट के दलदल में धकेल देते हैं.

अधिक पढ़ें ...

रांची. मानव तस्करों के लिए सोशल साइट्स इनदिनों नया हॉट स्पॉट बन गया है. अब ये तस्कर मध्यम वर्गीय परिवार को अपना शिकार बना रहे हैं. रांची बाल कल्याण समिति के पास हाल के दिनों में इस तरह के कई मामले सामने आए हैं. समिति की माने तो रोजाना औसतन 2 से 3 केस इस तरह के उसके पास आ रहे हैं.

मानव तस्कर अब नए पैंतरे का इस्तेमाल कर अपने काले धंधे में चार चांद लगा रहे हैं. पहले जहां तस्कर बस और ट्रेन का इस्तेमाल करते थ, वहीं कोविड काल में हवाई मार्ग का सहारा लेने लगे. लेकिन जैसे ही पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों ने अपनी नजर तरेरी, उसके बाद मानव तस्कर सोशल साइट्स पर एक्टिव हो चुके हैं. अब तस्करों ने अपना शिकार भी बदल लिये हैं. मध्यम वर्गीय परिवार को निशाना बना रहे हैं.

हालांकि इस तरह के मामलों में अबतक तस्करों की गिरफ्तारी नहीं हुई है, लेकिन कई नाबालिग बच्चियों को रेस्क्यू किया गया है, जो सोशल साइट्स के जरिए इनके सम्पर्क में आई थीं. रांची बाल कल्याण समिति के सदस्य बैजनाथ ने बताया कि पिछले दो महीने से इस तरह का ट्रेंड देखने को मिल रहा है. मानव तस्कर सोशल साइट्स पर एक्टिव होकर खासकर वैसे बच्चों को ज्यादा निशाना बना रहे हैं, जो टिक टॉक और moj जैसे साइट्स पर अपना वीडियो बनाकर पोस्ट करते हैं. उन्हें फिल्मों में काम दिलाने के नाम पर एक्ट्रेस बनाने का ख्वाब दिखाकर मुम्बई बुलाते हैं और वहां सेक्स रैकेट के दलदल में धकेल देते हैं. उन्होंने बताया कि पिछले एक माह में ही रांची रेलवे स्टेशन से ऐसे 100 बच्चियों को रेस्क्यू कराया गया. इन्हें एक्ट्रेस बनवाने का ख्वाब दिखाकर बाहर ले जाया जा रहा था.

पुलिस इस तरह के मामले को लेकर गंभीर है. और रेलवे स्टेशन के साथ-साथ एयरपोर्ट पर सम्बंधित एजेंसियों के साथ मिलकर काम कर रही है. इनमें संलिप्त लोगों का डेटा बेस तैयार किया जा रहा है. सीआईडी की स्पेशल विंग सभी वांक्षित जगहों की मॉनिटरिंग कर रही है.

बहरहाल पूरे मामले को लेकर पुलिस एक्टिव है. इसके साथ ही बाल कल्याण समिति भी आने वाले दिनों में पुलिस के साथ इस तरह के मामलों की जानकारी साझा करेगी. लेकिन सोशल साइट्स पर मानव तस्करों के एक्टिव होना बड़े खतरे की घंटी है. मानव तस्करों की जद में अब मध्यम वर्ग के परिवार के लोग भी आ गए हैं. इन परिवारों के बच्चे वर्तमान में बेपरवाह तरीके से मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं और सोशल साइट्स पर कुछ ज्यादा ही समय बिताते हैं.

Tags: Human trafficking, Jharkhand news, Ranchi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर