होम /न्यूज /झारखंड /निलंबित IAS अधिकारी पूजा सिंघल पर ED का शिकंजा, अस्पताल समेत 82.77 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क

निलंबित IAS अधिकारी पूजा सिंघल पर ED का शिकंजा, अस्पताल समेत 82.77 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क

प्रवर्त्तन निदेशालय निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल की 82.77 करोड़ रुपये की कई अचल संपत्ति को अटैच कर लिया है.

प्रवर्त्तन निदेशालय निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल की 82.77 करोड़ रुपये की कई अचल संपत्ति को अटैच कर लिया है.

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल (Suspended IAS Pooja Singhal) की 82.77 करोड़ रुपये की कई अचल ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल (Suspended IAS Pooja Singhal) की 82.77 करोड़ रुपये की कई अचल संपत्ति को अटैच (Properties Attached) कर लिया है. पूजा सिंघल झारखंड कैडर के 2000 बैच की भारतीय प्रशासनिक सेवा की अधिकारी हैं. पूजा सिंघल पर झारखंड में मनरेगा घोटाला, अवैध खनन और मनी लाउंड्रिंग के कई आरोप हैं. इसी साल 11 मई को प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने सिंघल को गिरफ्तार किया था. ईडी की टीम ने सिंघल के पति अभिषेक मिश्रा के स्वामित्व वाली रांची स्थित पल्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल, पल्स डायग्नोस्टिक एंड इमेजिनिंग सेंटर और रांची स्थित दो भूखंडों को अटैच किया है. ईडी की ओर से इन अचल संपत्तियों का बाजार मूल्य करीब 82.77 करोड़ बताया गया है.

बता दें कि पूजा सिंघल को मनरेगा योजना में कथित अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में 11 मई को प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार किया था. झारखंड में 18.06 करोड़ रुपये का मनरेगा घोटाला उस अवधि के दौरान हुआ, जब सिंघल खूंटी में उपायुक्त पद पर तैनात थीं.

Enforcement Directorate

डी ने इसी साल 5 मई को पूजा सिंघल के कई ठिकानों पर छापेमारी की थी.

आईएएस पूजा सिंघल इसलिए हुईं थी गिरफ्तार
आपको बता दें कि ईडी ने इसी साल 5 मई को पूजा सिंघल के कई ठिकानों पर छापेमारी की थी. इस दौरान ईडी ने एक सीए के यहां से तकरीबन 19 करोड़ रुपये नकद बरामद किए थे. इसके बाद ईडी ने पूजा सिंघल से कई दौर के पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था. भारी मात्रा में कैस बरामदगी के बाद ईडी ने पूजा के पति अभिषेक कुमार झा, चार्टर्ड अकाउंटेंट सुमन कुमार सिंह के अलावा खूंटी जिले के कई इंजीनियरों और अधिकारियों से भी पूजा सिंघल के सामने बैठाकर पूछताछ की थी.

पूजा सिंघल पर ईडी ने क्यों कसा शिकंजा
ईडी सूत्रों की मानें तो सीए सुमन कुमार सिंह ने स्वीकार किया था कि कई बार उसने पल्स अस्पताल के लिए फर्जी बिल बनाकर दी थी. ईडी को छानबीन में जानकारी मिली है कि पूजा सिंघल ने गलत कमाई को पल्स अस्पताल में इनवेस्ट किया. बता दें कि पूजा सिंघल ने अभिषेक झा से दूसरी शादी जून 2011 में की थी. पूजा सिंघल की पहली शादी एक आईएएस से ही हुई थी, लेकिन वह ज्याादा दिन तक चल नहीं सका.

ये भी पढ़ें: Parking Free: नोएडा के इन स्थानों पर आज से वाहनों की पार्किंग शुल्क फ्री, जानिए कब तक लागू रहेगी ये सुविधा

हालांकि, आपको जानकर हैरानी होगी कि जिस मनरेगा घोटाले के मामले में निलंबित आईएएस पूजा सिंघल जेल में बंद हैं, इसी मामले में राज्य सरकार ने जांच के बाद पूजा सिंघल को क्लीन चिट दे दी थी. जिस वक्त पूजा सिंघल को क्लीन चिट दी गई थी, उस वक्त राज्य में रघुवर दास के नेतृत्व में बीजेपी की सरकार थी. 25 मई 2022 से अब तक पूजा सिंघल जेल में बंद हैं.

Tags: ED, Enforcement directorate, IAS Officer, Jharkhand news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें