Home /News /jharkhand /

ias pooja singhal case ed got international connection in the interrogation of dumka and pakur dmo nodaa

IAS Pooja Singhal Case: दुमका और पाकुड़ DMO से पूछताछ में मिला इंटरनेशनल कनेक्शन

पूजा सिंघल मामले में ईडी ने पाकुड़ और दुमका के डीएमओ से पूछताछ की और अब वह मामले के इंटरनैशनल कनेक्शन की पड़ताल कर रहा है.

पूजा सिंघल मामले में ईडी ने पाकुड़ और दुमका के डीएमओ से पूछताछ की और अब वह मामले के इंटरनैशनल कनेक्शन की पड़ताल कर रहा है.

Black Stone: पाकुड़ के ब्लैक स्टोन चिप्स काफी हल्के होते हैं और यहां के स्टोन चिप्स पूरे एशिया में नंबर 1 पोजिशन पर आते हैं. इस खूबी की वजह से इसकी मांग काफी है. यही वजह है पूजा सिंघल प्रकरण की जांच की आंच पाकुड़, दुमका और साहेबगंज के डीएमओ पर भी पड़ी है. उनसे कई अहम जानकारियां ईडी को मिली हैं और ईडी अब इस इंटरनेशनल कनेक्शन को खंगालने में जुटा है.

अधिक पढ़ें ...

रांची. आईएएस पूजा सिंघल मामले में ईडी की जांच में न सिर्फ झारखंड और देश बल्कि अंतरराष्ट्रीय कनेक्शन भी सामने आ रहा है. इसकी वजह है पाकुड़ के ब्लैक स्टोन चिप्स, जिसकी डिमांड देश के साथ विदेशों तक में है. ईडी की पूछताछ और जांच में ये बातें सामने आई हैं.

जानकारी के अनुसार, पाकुड़ से स्टोन चिप्स साहेबगंज के रास्ते बांग्लादेश जाया करते थे और फिर बांग्लादेश से दूसरे देशों में इन ब्लैक स्टोन की सप्लाई की जाती थी. पिछले दिनों साहेबगंज में हुए पानी जहाज हादसे के बाद ये बातें जोरशोर से उठीं. मामले में यह बात सामने आई थी कि जहाज से अवैध पत्थर की भी ढुलाई होती है.

जानकारी के अनुसार, पाकुड़ के ब्लैक स्टोन चिप्स काफी हल्के होते हैं और यहां के स्टोन चिप्स पूरे एशिया में नंबर 1 पोजिशन पर आते हैं. इस खूबी की वजह से इसकी मांग काफी है और यहां खनन कारोबारियों की अच्छी पैठ है. इन इलाकों में खनन पादधिकारी का पद मलाईदार पोस्ट की श्रेणी में है और यही वजह है पूजा सिंघल प्रकरण की जांच की आंच पाकुड़, दुमका और साहेबगंज के डीएमओ पर भी पड़ी है. जानकारी के अनुसार दुमका और पाकुड़ डीएमओ से पूछताछ में कई अहम जानकारियां ईडी को मिली हैं और ईडी अब इस इंटरनेशनल कनेक्शन को खंगालने में जुटा है.

पूरे मामले में बीजेपी विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने कहा कि इस इलाके में अवैध खनन इन दिनों जोरों पर है और इसकी वजह सरकार है. यही वजह है कि यहां के माइनिंग ऑफिसर प्रवर्तन निदेशालय के निशाने पर हैं. खनन पदाधिकारियों को पूछताछ के लिए ईडी ने बुलाया है. वहीं उन्होंने इसके लिए वर्तमान सिस्टम को निशाने पर लिया. बहरहाल, मनरेगा से शुरू हुई जांच का इंटरनेशनल मामले में बदलना यह बताता है कि इस मामले में कई वैसे नाम भी सामने आएंगे जो अबतक पर्दे के पीछे हैं.

Tags: ED investigation, Jharkhand news, MNREGA

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर