मॉब लिंचिंग मामला: नई मेडिकल रिपोर्ट में खुलासा, कार्डियक अरेस्ट के कारण हुई थी तबरेज की मौत... लेकिन

तबरेज अंसारी की नई पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक तबरेज की मौत की वजह कार्डियक अरेस्ट है, जो संभवतः उसकी गंभीर चोटों से शुरू हुई.

News18 Jharkhand
Updated: September 13, 2019, 3:35 PM IST
मॉब लिंचिंग मामला: नई मेडिकल रिपोर्ट में खुलासा, कार्डियक अरेस्ट के कारण हुई थी तबरेज की मौत... लेकिन
तबरेज अंसारी की नई मेडिकल रिपोर्ट आई सामने (सांकेतिक तस्वीर)
News18 Jharkhand
Updated: September 13, 2019, 3:35 PM IST
रांची. तबरेज अंसारी (Tabrez Ansari) की मौत मामले में जमशेदपुर के एमएजीएम मेडिकल कॉलेज के पांच विभागाध्यक्षों द्वारा हस्ताक्षरित एक दस्तावेज इस बात की पुष्टि की है कि तबरेज अंसारी की मौत कार्डियक अरेस्ट से हुई थी, जो संभवतः उसकी गंभीर चोटों से शुरू हुई थी, जिसमें सिर का एक फ्रैक्चर भी शामिल है. बता दें कि दस्तावेज पर हस्ताक्षर करने वाले लोग एसआईटी के सदस्य हैं और वह तबरेज की मौत के कारणों का पता लगा रहे थे.

जांच के लिए पांच सदस्यीय मेडिकल पैनल का किया था गठन 

मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक तबरेज को दिल का दौरा तो पड़ा था, लेकिन इसकी वजह को सिर में आई गंभीर चोटें से जोड़ा जा रहा है, जिससे तबरेज की मौत हो गई थी. तबरेज की मौत की जांच के लिए पांच सदस्यीय मेडिकल पैनल (Five member medical panel) का गठन किया गया था. गौरतलब है कि 24 वर्षीय तबरेज अंसारी पर भीड़ ने 17 जून को हमला किया था. घटना झारखंड (Jaharkhand) के सराईकेला खरसांवा जिले में हुई थी. लोगों ने तबरेज को चोर समझकर उसकी पिटाई कर दी थी. इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया था, जिसमें लोग उसे धमकाते हुए दिख रहे थे और जय श्री राम का नारा लगाने के लिए कह रहे थे. तबरेज की मौत के बाद परिवार ने अपनी शिकायत में कहा था कि तबरेज के साथ क्रूरता की गई थी. उसे सिर पर गंभीर चोट आई थी, जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई थी.

24 वर्षीय तबरेज अंसारी पर भीड़ ने 17 जून को हमला किया था (सांकेतिक तस्वीर)
24 वर्षीय तबरेज अंसारी पर भीड़ ने 17 जून को हमला किया था (सांकेतिक तस्वीर)


22 जून को  हुई थी तबरेज अंसारी की मौत

बता दें कि इस मामले में पुलिस घटनास्थल पर 18 घंटे बाद पहुंची थी. घायल अवस्था में तबरेज को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, लेकिन 22 जून को अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी.  पुलिस ने पहले 11 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. अंसारी की पत्नी की शिकायत के आधार पर एफआईआर में आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया था.

यह भी पढ़ें- तबरेज मॉब लिंचिंग: गवाह ने कहा- भीड़ चिल्ला रही थी, 'इतना मारो कि मर जाए'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 13, 2019, 1:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...