• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • RANCHI INITIATIVE OF JHARKHAND GOVERNMENT 26 MIGRANT LABORERS TO RETURN FROM NEPAL NODSSP

CM हेमंत सोरेन की पहल: नेपाल से लौटेंगे 26 प्रवासी मजदूर, नेपाल सरकार ने दी मंजूरी

झारखंड सरकार की पहल से 26 प्रवासी मजदूरों की घर वापसी का रास्ता साफ हो गया है.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की पहल पर सरकार ने नेपाल में काम करने वाले 26 प्रवासी मजदूरों की सकुशल वापसी की तैयारी पूरी हो गई है. नेपाल सरकार के सक्षम पदाधिकारियों से राज्य सरकार ने बात की. जिसके बाद नेपाल में काम कर रहे प्रवासी मजदूरों की कल घर वापसी होने जा रही है.

  • Share this:
रांची. झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के सकारात्मक पहल ने असर दिखाया है. प्रवासी मजदूरों को लेकर संवेदनशीलता के साथ सरकार ने पूर्व में भी कई कदम उठाए हैं. उसी कड़ी में मुख्यमंत्री की पहल पर सरकार ने नेपाल में काम करने वाले 26 प्रवासी मजदूरों की सकुशल वापसी की दिशा में तीव्र गति से एक्शन लिया. इस संबंध में नेपाल सरकार के सक्षम पदाधिकारियों से राज्य सरकार ने बात की. जिसके बाद नेपाल में काम कर रहे प्रवासी मजदूरों की कल वापसी होने जा रही है.

बता दें कि नेपाल गए इन मजदूरों ने सरकार से वतन वापस आने की इच्छा जताई थी. उन्होंने कहा था कि वह वापस आना चाहते हैं, लेकिन आने के कोई संसाधन नहीं मिल रहे हैं. राज्य सरकार ने इस दिशा में तत्परता के साथ कार्रवाई की. दुमका जिला प्रशासन द्वारा मजदूरों को वापस लाने हेतु वाहन को नेपाल भेजा गया. बस की रवानगी से पूर्व ही नेपाल सरकार की स्वीकृति प्राप्त कर ली गई है. नेपाल से वापस आने वाले प्रवासी मजदूरों की दुमका के इंडोर स्टेडियम में लाया जाएगा. जहां इनके स्वास्थ्य की जांच की जाएगी, फिर उन्हें उनके गंतव्य तक भेजा जाएगा.

दुमका विधायक बसंत सोरेन ने की थी पहल

इससे पहले मजदूरों के फंसे होने की जानकारी मिलने पर दुमका विधायक बसंत सोरेन ने मजदूरों के घर लाने की भी पहल की थी. उन्होंने मुख्यमंत्री कार्यालय और दुमका डीसी राजेश्वरी बी को ट्वीट कर इनके घर वापसी का प्रबंध करने और सभी मजदूरों को उचित स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने को कहा था. वहीं नेपाल की एक स्वयंसेवी संस्था ने भी फंसे भारतीय मजदूरों को वापस भिजवाने की व्यवस्था करने के लिए नेपाल पुलिस और भारतीय दूतावास से सम्पर्क किया था.