Home /News /jharkhand /

instant loan app fraud increased in ranchi cyber criminals hack contact gallery and demand money bruk

Instant Loan App से कर्ज लेने वाले सावधान! 5 गुना अधिक देना पड़ेगा पैसा, फोटो के साथ भी हो सकती है छेड़छाड़

Jharkhand News: रांची में इंस्टेंट लोन एप के माध्यम से कई लोगों के साथ ठगी का मामला सामने आया है.

Jharkhand News: रांची में इंस्टेंट लोन एप के माध्यम से कई लोगों के साथ ठगी का मामला सामने आया है.

Jharkhand News: हाल के दिनों में रांची में इंस्टेंट लोन एप के माध्यम से कई लोगों के साथ ठगी का मामला सामने आया है. इस लोन एप के सबसे ज्यादा शिकार टीनएजर्स बन रहे हैं. लेकिन, अब इस मामले में जो बड़ा खुलासा हुआ उसके तहत साइबर अपराधी अब इस एप से लोन लेने वालों के करीबियों को भी टारगेट कर रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

रांची. रांची समेत झारखंड के लोग इन दिनों इंस्टेंट लोन एप से परेशान हैं. वहीं यह ऐप रांची पुलिस और साइबर सेल के लिए भी चुनौती बना हुआ है. दरअसल हाल के दिनों में रांची में इंस्टेंट लोन एप के माध्यम से कई लोगों के साथ ठगी का मामला सामने आया है. इस लोन एप के सबसे ज्यादा शिकार टीनएजर्स बन रहे हैं. लेकिन, अब इस मामले में जो बड़ा खुलासा हुआ उसके तहत साइबर अपराधी अब इस एप से लोन लेने वालों के करीबियों को भी टारगेट कर रहे हैं.

मिली जानकारी के अनुसार लोन लेने वालों के करीबियों को ब्लैकमेल किया जा रहा है. पिछले कुछ दिनों में राजधानी रांची में भी इस तरह के मामले देखने को मिले हैं. इंस्टेंट लोन एप के जरिए लोगों को बगैर डॉक्यूमेंटेशन के लोन तो मिल जाते हैं. लेकिन, इस तरह के एप डाउनलोड करने के साथ ही ब्लैकमेलिंग का धंधा भी शुरू हो जाता है, जिससे लोन लेने वाले लोग फंस  जाते हैं.

गैलेरी हैक कर शुरू होता है ब्लैकमेलिंग का खेल

पुलिस के अनुसार ऐसे एप से लोन लेने वाले लोगों को और उनके करीबियों को साइबर अपराधी ब्लैकमेल कर पैसे की मांग करते हैं. मामले की जानकारी देते हुए सीआईडी साइबर सेल के एसपी एस कार्तिक ने बताया कि साइबर अपराधी इस तरह के लोन एप के जरिए युवाओं को निशाना बना रहे हैं. एप को जैसे ही इंस्टाल किया जाता है. वैसे ही मोबाइल के सभी कांटेक्ट और गैलेरी को हैक कर लिया जाता है और फिर यहीं से ब्लैकमेलिंग का खेल शुरू होता है.
फोटोशॉप की मदद से तस्वीरों के साथ की जाती है छेड़छाड़

मिली जानकारी के अनुसार लोगों को ऐसे ऐप के जरिए बिना किसी डॉक्यूमेंटेशन के इंस्टेंट लोन ऑफर किया जा रहा है. वहीं लोन लेने के कुछ समय बाद ही रिकवरी के कॉल आने लगते हैं, जिसमें यूजर को लोन ली गई राशि से कई गुना अधिक रकम चुकाने के लिए कहा जाता है. ऐसा करने से मना करने पर साइबर क्रिमिनल यूजर के स्मार्टफोन कॉन्टैक्ट और फोटो को गलत तरीके से इस्तेमाल करके प्रताड़ित करते हैं. रांची साइबर सेल की डीएसपी यशोधरा ने बताया कि इस तरह के लोन का काफी इंट्रेस्ट रहता है और लोन  का इंट्रेस्ट न देने वालों के परिचितों को भी ब्लैकमेल किया जाता है. फोटोशॉप की मदद से  उनके तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ कर उन्हें ब्लेकमेल करते हैं. उन्होंने बताया कि इस तरह के मामले में लोगों को एहतियात बरतते हुए किसी भी एप्प को इंस्टाल करते समय कांटेक्ट और गैलेरी शेयर का परमिशन जरूरत देखकर ही देना चाहिए.

जानें Instant Loan App से जुड़ी खास बातें

इन एप से मिलने वाले लोन का ब्याज काफी ज्यादा होता है.
लोन एप डाउनलोड करने के साथ ही कांटेक्ट और गैलेरी हैक हो जाता है.
युवा वर्ग इन एप के सबसे ज्यादा शिकार होते हैं.
4 हजार का लोन लेने पर 20 हजार तक की डिमांड होती है.
गैलेरी और कांटेक्ट हैक कर ब्लैकमेलिंग का खेल शुरू होता है.
इस तरह के लोन एप RBI से रजिस्टर्ड नहीं होते हैं.
ज्यादातर लोन एप साइबर अपराधियों का अड्डा है.
पुलिस के लिए भी ऐसे एप चुनौती का सबब बने हुए हैं.
फोटोशॉप की मदद से तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ की जाती है.

Tags: Cyber Crime, Jharkhand news, Loan offers

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर