Home /News /jharkhand /

झारखंड में होने वाली मानव तस्‍करी पर दुनिया भर के चिंतक करने मंथन

झारखंड में होने वाली मानव तस्‍करी पर दुनिया भर के चिंतक करने मंथन

झारखंड से हो रही मानव तस्करी को लेकर चिंता देश की सीमा से बाहर तक पहुंच गई है। यही वजह है कि अमेरिकन कॉन्सुलेट कोलकाता अपना चौथा कॉनक्लेव रांची में आयोजित कर रही है।

झारखंड से हो रही मानव तस्करी को लेकर चिंता देश की सीमा से बाहर तक पहुंच गई है। यही वजह है कि अमेरिकन कॉन्सुलेट कोलकाता अपना चौथा कॉनक्लेव रांची में आयोजित कर रही है।

झारखंड से हो रही मानव तस्करी को लेकर चिंता देश की सीमा से बाहर तक पहुंच गई है। यही वजह है कि अमेरिकन कॉन्सुलेट कोलकाता अपना चौथा कॉनक्लेव रांची में आयोजित कर रही है।

झारखंड से हो रही मानव तस्करी को लेकर चिंता देश की सीमा से बाहर तक पहुंच गई है। यही वजह है कि अमेरिकन कॉन्सुलेट कोलकाता अपना चौथा कॉनक्लेव रांची में आयोजित कर रही है।

दिल्ली की स्वयंसेवी संस्था शक्ति वाहिनी के साथ संयुक्त रूप से आयोजित इस दो दिवसीय अंतराष्ट्रीय कॉनक्लेव में कई देशों के प्रतिनिधि भी शिरकत करेंगे और मानव तस्करी जैसे अंतरराष्‍ट्रीय समस्या को खत्म करने के लिए मंथन करेंगे।

दो दिनों के मंथन के बाद जो निष्कर्ष निकलेगा उससे इस संगठित अपराध को खत्म करने के लिए आगे की योजना बनायी जाएगी। कोलकाता से आयी अमेरिकन कॉन्सुल जनरल हेलेन लाफावे ने गुरुवार केा आयोजित प्रेसवार्ता में मानव तस्करी को लेकर यूएस सरकार की चिंता को सामने रखा।

इस कॉनक्लेव में झारखंड सरकार की महिला बाल और समाज कल्याण मंत्री लुईस मरांडी और मानव संसाधन विकास मंत्री नीरा यादव उद्घाटन समारोह में शिरकत करेंगी।

कॉनक्लेव के समापन समारोह मे मुख्यमंत्री रघुवर दास शिरकत करेंगे। इस कॉनक्लेव मे मानव तस्करी के खिलाफ बेहतर काम करने वाली चार महिला पुलिस पदाधिकारियों को सम्मानित किया जायेगा।

सम्मानित होने वाली मे झारखंड की भी एक महिला अधिकारी अनुराधा सिंह है जो एंटी ह्रूमन ट्रैफिकिंग यूनिट खुंटी की इंचार्ज है।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर