लाइव टीवी

...तो क्या कांग्रेस के चलते अंतिम समय में टला हेमंत कैबिनेट का विस्तार!
Ranchi News in Hindi

Naween Jha | News18 Jharkhand
Updated: January 24, 2020, 11:49 AM IST
...तो क्या कांग्रेस के चलते अंतिम समय में टला हेमंत कैबिनेट का विस्तार!
शुक्रवार को हेमंत कैबिनेट का विस्तार होने वाला था, लेकिन टल गया

सूत्रों के मुताबिक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की जल्द ही कांग्रेस में शामिल होंगे. और इनमें से एक को कांग्रेस कोटे से मंत्री बनाया जा सकता है. इसलिए अंतिम समय में कांग्रेस के आग्रह के सीएम हेमंत सोरेन ने कैबिनेट विस्तार को टाला है.

  • Share this:
रांची. तो क्या कांग्रेस के चलते हेमंत मंत्रिमंडल (Hemant Cabinet) का विस्तार टला है. शुक्रवार को एक बजे कैबिनेट का विस्तार होना था, लेकिन सीएम ने गुरुवार शाम को राज्यपाल से मिलकर इसे टालने का आग्रह किया. सियासी गलियारों में इस घटनाक्रम को प्रदीप यादव (Pradeep Yadav) और बंधु तिर्की (Bandhu Tirkey) की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से मुलाकात के साथ जोड़कर देखा जा रहा है. गुरुवार शाम को जब सीएम हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) रांची में राज्यपाल से मिल रहे थे, ठीक उसी समय दिल्ली में प्रदीप यादव और बंधु तिर्की सोनिया गांधी से मिल रहे थे. सूत्रों के मुताबिक ये दोनों जल्द ही कांग्रेस (Congress) में शामिल होंगे. और इनमें से एक को कांग्रेस कोटे से मंत्री बनाया जा सकता है. इसलिए अंतिम समय में कांग्रेस के आग्रह के सीएम हेमंत सोरेन ने कैबिनेट विस्तार को टाला है.

कैबिनेट विस्तार में फंसा नया पेंच

हालांकि इससे पहले कांग्रेस और जेएमएम में मंत्रीपद की संख्या को लेकर पेंच फंसा था. कांग्रेस पांच मंत्रीपद को लेकर अड़ी थी, लेकिन जेएमएम मात्र चार सीट ही देना चाह रही है. इसके पीछे चार विधायकों पर एक मंत्री का तर्क था. लेकिन सूत्रों के मुताबिक सीएम हेमंत ने इस पेंच को सुलझाने के बाद गुरुवार को राज्यपाल से मिलकर मंत्रिमंडल विस्तार के लिए समय लिया था. लेकिन गुरुवार शाम दिल्ली में नये सियासी घटनाक्रम के बाद कैबिनेट विस्तार में नया पेंच फंस गया.

शपथग्रहण को लेकर पूरी हो गई थी तैयारी

हालांकि गुरुवार शाम को राज्यपाल से मिलने के बाद सीएम हेमंत सोरेन ने बताया कि पश्चिमी सिंहभूम की घटना से वे मर्माहत हैं, इसलिए उन्होंने मंत्रिमंडल विस्तार टाल दिया है. इससे पहले सुबह उन्होंने राज्यपाल से मिलकर कैबिनेट विस्तार के लिए शुक्रवार का समय लिया था. जिसके बाद राजभवन के बिरसा मंडप में इसको लेकर तैयारी शुरू हो गई थी. शाम तक तैयारी पूरी भी कर ली गई थी. शुक्रवार एक बजे शपथग्रहण समारोह होना था.

बता दें कि 25 दिन बीत जाने के बाद भी हेमंत मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हो पाया है. 29 दिसंबर को सीएम हेमंत सोरेन के साथ तीन मंत्रियों ने शपथ ली थी. इनमें कांग्रेस कोटे से दो और आरजेडी से एक मंत्री हैं. 8 मंत्रियों को कैबिनेट में शामिल होना बाकी है.

बंधु तिर्की को जेवीएम से निकाल दिया गयाविधायक बंधु तिर्की को पार्टी विरोधी गतिविधि में शामिल होने के आरोप में तीन दिन पहले जेवीएम से निकाल दिया गया. जिसके बाद से उनके कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई थीं. हालांकि विधायक प्रदीप यादव अभी भी जेवीएम में बने हुए हैं. लेकिन अब उनपर भी कार्रवाई हो सकती है. दरअसल बाबूलाल मरांडी अपनी पार्टी जेवीएम का बीजेपी में विलय कराना चाहते हैं. लेकिन बंधु तिर्की और प्रदीप यादव इसका विरोध कर रहे थे.

ये भी पढ़ें- बंधु और प्रदीप ने थामा कांग्रेस का दामन? दिल्ली में सोनिया-राहुल से मिले

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 24, 2020, 11:48 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर