Home /News /jharkhand /

jagannath rath yatra jagannath rath mela after 2 years amritsar sword and jharkhandi dhol in demand bruk

जगन्नाथ रथ मेला में अमृतसर की तलवार और झारखंडी ढोल की खूब डिमांड, 2 वर्षों बाद दिखा गजब का उत्साह

कोरोना के 2 वर्षों बाद शुक्रवार को निकली भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे थे.

कोरोना के 2 वर्षों बाद शुक्रवार को निकली भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे थे.

Jagannath Rath Mela:: इस बार मेला में अमृतसर की तलवार और झारखंडी ढोल की सजी दुकान आकर्षण का केंद्र बनी हुई हैं. युवाओं में इसका काफी क्रेज दिख रहा है. कई युवाओं ने अमृतसरी तलवार की खरीदारी कर मंदिर में पूजा भी कराई.

रांची. जगन्नाथ रथ मेला में 2 सालों बाद इस बार उत्साह और उमंग का माहौल देखने को मिल रहा है. रांची में शुक्रवार को जगन्नाथ रथ मेला के दौरान बच्चों और बड़े सबके चेहरे खुशी से चमक रहे थे. दो सालों के बाद मेले में सजने वाली दुकान में भीड़ है. हर तरफ रौनक, झूले की मस्ती और मौत के कुएं का रोमांच हर किसी को भा रहा है. मौत के कुएं में कलाकार हैरतअंगेज करतब दिखा रहे हैं. बता दें, कोरोना के दो साल बाद शुक्रवार को निकली भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे थे. भगवान जगन्नाथ, सुभद्रा और बलभद्र ने भक्तों को दर्शन दिए. रथ के आगे चलने वाले भक्तों ने रथ की रस्सी खींचकर रथ को आगे बढ़ाया.

मेले में लोग खरीदारी, झूले का आनंद के साथ चटपटी चाट और मिठाइयों का स्वाद चख रहे हैं. आस्था और उमंग के इस मेले में कृषि यंत्र, वाद यंत्र और पारंपरिक हथियार आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं. उल्टी चलने वाली घड़ी सबका मन मोह रही है. मेले में गोल चक्कर से जगन्नाथ मुख्य मंदिर के आगे तक दुकानें सजी हुई हैं. खाजा बताशा, बालूशाही, जलेबी और लड्डू जैसी मिठाइयों की महक बिक्री हुई है. साथ ही बच्चों के लिए खिलौने की दुकानों में खूबसूरत फिरौन बिक रहे हैं. इन दुकानों में  बच्चों के खिलौने, घर के लिए बर्तन आदि उपलब्ध है.

अमृतसर की तलवार और झारखंडी ढोल का क्रेज 

इस बार मेला में अमृतसर की तलवार और झारखंडी ढोल की सजी दुकान आकर्षण का केंद्र बनी हुई हैं. युवाओं में इसका काफी क्रेज दिख रहा है. कई युवाओं ने अमृतसरी तलवार की खरीदारी कर मंदिर में पूजा भी कराई. दुकानदारों ने बताया कि इस बार अमृतसर की तलवार की काफी मांग है इसकी रेंज 800 से 900 तक की बीच है. वहीं झारखंड के वाद्य यंत्र की दुकानों पर भी भीड़ जुट रही है. बांसुरी ढोल नगाड़ा और मांदर की अच्छी बिक्री हो रही है. ढोलक ₹700 से 5000 और दो नगाड़ा ₹7000 में बिक रहा है. वहीं मेले में कृषि से जुड़े औजार-जाल आदि की दुकानें भी सजी हैं.

मेले में लगाए गए हैं करीब 40 झूले 

मेला परिसर में करीब 40 बड़े छोटे-झूले लगाए गए हैं. इनमें आठ टावर झूला, 10 ब्रेक डांस, 5 टोरा टोरा, चार ड्रैगन ट्रेन शामिल है. ₹60 में टावर झूला का मजा लिया जा सकता है. वहीं अन्य बड़े झूले का चार्ज ₹50 है. रेंजर झूला पर मस्ती करने के लिए प्रति व्यक्ति ₹70 खर्च करना होगा. वहीं छोटी जूली के लिए 20 से ₹25 तक देना पड़ेगा. साथ ही मौत का कुआं का टिकट 40 से 50 के प्रति व्यक्ति है. इस बार मौत का कुआं थोड़ा नया है. इस बार 5 मिनट में चार पांच मोटरसाइकिल कार एक साथ स्टंट करते नजर आएंगे.

Tags: Jagannath rath yatra news, Jharkhand news, Ranchi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर