Home /News /jharkhand /

झारखंड में सरना धर्म कोड की मांग: राज्यपाल से मिला सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल, BJP नहीं हुई शामिल

झारखंड में सरना धर्म कोड की मांग: राज्यपाल से मिला सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल, BJP नहीं हुई शामिल

झारखंड में सरना धर्म कोड की मांग को लेकर सभी दलों के नेता राज्यपाल से मिलने पहुंचे.

झारखंड में सरना धर्म कोड की मांग को लेकर सभी दलों के नेता राज्यपाल से मिलने पहुंचे.

Ranchi: सरना धर्म कोड की मांग को लेकर गुरुवार को मंत्री चंपई सोरेन के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से मिलने पहुंचा. इस प्रतिनिधि मंडल में बीजेपी को छोड़कर शामिल सभी दलों के नेताओं ने राज्यपाल से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपा.

अधिक पढ़ें ...

रांची. झारखंड में एक बार फिर से सरना धर्म कोड (Sarna Religion Code) की मांग उठने लगी है. दरअसल जनगणना में सरना धर्म कोड की मांग को लेकर गुरुवार को मंत्री चंपई सोरेन (Champai Soren) के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से मिलने पहुंचा. इस प्रतिनिधि मंडल में बीजेपी (BJP) को छोड़कर शामिल सभी दलों के नेताओं ने राज्यपाल से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपा. प्रतिनिधिमंडल में मंत्री चंपई सोरेन, विधायक बंधु तिर्की, दीपक बिरूआ, लंबोदर महतो, नमन विक्सल कोंगड़ी, विकास मुंडा शामिल थे. इस दौरान जेएमएम (JMM) विधायक चंपई सोरेन ने कहा कि हमारा इतिहास बहुत पुराना है. हमलोग चाहते है कि हमारी पहचान मिटना नहीं चाहिए. जल, जंगल और जमीन ही हमारी संस्कृति है. हमलोग वर्षो से पेड़, नदी और पहाड़ की पूजा करते आए हैं. हमलोग प्रकृति पूजक है. इसी संदर्भ में 2021 की जनगणना में एक अलग सरना धर्म कोड निर्धारित किया जाना चाहिए ताकि हमारी संस्कृति बरकार रहे. हमलोगों ने इसी संबंध में राज्यपाल से मिलकर उन्हें ज्ञापन सौंपा है.
इधर बीजेपी के किसी नेता के प्रतिनिधिमंडल में शामिल नहीं होने के सवाल पर मंत्री चंपई सोरेन ने कहा कि कल ही मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी ने अवगत करा दिया था कि सर्वदलीय प्रतिनिधि राज्यपाल से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपेंगे. लेकिन, फिर बीजेपी के नेता शामिल नहीं हुए तो यह उनकी मर्जी है.
इस दौरान कांग्रेस विधायक बंधु तिर्की ने कहा कि जिस तरह अन्य धर्म का कोड है उसी प्रकार हमारी भी सरना धर्म कोड होनी चाहिए ताकि हमें यह पता चल सके कि हमारी जनसंख्या की कितनी है. इससे हमारे समाज का विकास होगा.
बताया जाता है कि भाजपा ने झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेतृत्व में सर्वदलीय शिष्टमंडल में शामिल होने से स्पष्ट इन्कार किया था. विधानसभा में विपक्षी दल के मुख्य सचेतक बिरंची नारायण ने कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा राजनीतिक नौटंकी कर रहा है. भाजपा का किसी सर्वदलीय शिष्टमंडल में शामिल होने का कार्यक्रम नहीं है.
बता दें, पिछले दिनों मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में भी एक सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल ने नई दिल्ली में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात कर इस बाबत ज्ञापन सौंपा था. इसके साथ ही राज्य सरकार ने विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर सरना धर्म कोड को जनगणना में शामिल करने का प्रस्ताव पारित किया था. प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित हुआ था.

Tags: Governor, Jharkhand Politics, JMM

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर