Assembly Banner 2021

Jharkhand Assembly: जानें क्यों सदन में नाराज हुए पूर्व मंत्री सरयू राय, बोले- मंत्री होमवर्क करके नहीं आते

अपने सवाल का जवाब नहीं मिलने पर निर्दलीय विधायक सरयू राय सदन में नाराज दिखे.

अपने सवाल का जवाब नहीं मिलने पर निर्दलीय विधायक सरयू राय सदन में नाराज दिखे.

Jharkhand Assembly: सारंडा जंगल से जुड़े सवाल पर जवाब नहीं मिलने से नाराज पूर्व मंत्री सरयू राय ने कहा कि विधानसभा की स्थिति आरटीआई के जवाब से भी बदतर हो गई है.

  • Share this:
रांची. झारखंड विधानसभा (Jharkhand Assembly) के बजट सत्र (Budget Session) के तीसरे दिन मंगलवार को निर्दलीय विधायक सरयू राय ने सारंडा जंगल के अंदर वन्य जीव अभ्यारण्य को लेकर सदन में प्रश्नकाल के दौरान सरकार पर निशाना साधा. सरयू राय ने कहा कि मैंने सरांडा जंगल के अंदर के एक संरक्षित अभ्यारण्य को लेकर सदन में सवाल उठाया था, लेकिन उसका जवाब संबंधित मंत्री के पास नहीं था. मंत्री को जो लिख कर दिया गया, उन्होंने वही पढ़कर जवाब दिया.

सरयू राय ने कहा कि साल 1968 में वर्किंग वन संरक्षण को लेकर प्लान बना था. 1976 में उसका उल्लेख भी है कि अभ्यारण्य है, तब सयुंक्त बिहार था. 1988 में भी वन संरक्षण को लेकर एक प्लान बनाया गया था. 1980 से लेकर आज तक किसी भी डीएफओ ने नहीं बताया है कि कोई वन संरक्षण अभ्यारण्य भी है.

सरयू राय के सवाल पर स्पीकर ने भरोसा दिलाया कि सवाल का सही जवाब दिया जाएगा. सरयू राय ने कहा कि अब हर सवाल के लिए मैं हाईकोर्ट जाऊं हमेशा आरटीआई करू, यह तो सही नहीं है. मंत्री पूरी तैयारी के साथ नहीं आते कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिलता है. जो बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. हर सवाल का सही जवाब के लिए मुझे दस रुपए लगाकर आरटीआई करना पड़े यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण होगा. मंत्री कोई होम वर्क करके नहीं आते हैं. उनके पास कोई जवाब नहीं होता है.



उन्होंने कहा कि विधानसभा की स्थिति आरटीआई के जवाब से भी बदतर हो गई है. हर सवाल के जवाब के लिए आरटीआई करना पड़े. मंत्री वही जवाब देते हैं जो लिखा हुआ होता है, जो बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज