Home /News /jharkhand /

घाटशिला सीट पर कांग्रेस के 'विद्रोही' प्रदीप कुमार बालमुचू की हार, जेएमएम का दिखा जलवा

घाटशिला सीट पर कांग्रेस के 'विद्रोही' प्रदीप कुमार बालमुचू की हार, जेएमएम का दिखा जलवा

प्रदीप कुमार बालमुचू कांग्रेस पार्टी की ओर से कई अहम जिम्मेदारियों का निर्वाह कर चुके हैं.

प्रदीप कुमार बालमुचू कांग्रेस पार्टी की ओर से कई अहम जिम्मेदारियों का निर्वाह कर चुके हैं.

प्रदीप कुमार बालमुचु (Pradeep Kumar Balmuchu) साल 1995, 2000 और साल साल 2006 में लगातार तीन बार घाटशिला विधानसभा से चुने जा चुके हैं.

    घाटशिला सीट से आजसू पार्टी के उम्मीदवार प्रदीप कुमार बालमुचू चुनाव हार गए हैं. उन्हें झारखंड मुक्ति मोर्चा के रामदास सोरेन ने हराया है.

    प्रदीप कुमार बालमुचू (Pradeep Kumar Balmuchu) कांग्रेस के तीसरे नेता हैं जो प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष रह चुके हैं लेकिन साल 2019 के विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी छोड़कर अन्य पार्टी में शामिल हुए हैं. इन तीन नामों में एक नाम है डॉ. अजय कुमार का जो आम आदमी पार्टी में शामिल हो चुके हैं वहीं सुखदेव भागत कांग्रेस छोड़कर बीजेपी के पाले में जा चुके हैं जबकि प्रदीप कुमार बालमुचू अपनी पुरानी पार्टी कांग्रेस से नाता तोड़कर वो आजसू से जुड़कर उन्होंने अपने क्षेत्र की सेवा करने का मन बनाया है.

    घाटशिला से तीन बार विधानसभा में किया प्रतिनिधित्व
    प्रदीप कुमार बालमुचू कांग्रेस पार्टी की ओर से कई अहम जिम्मेदारियों का निर्वाह कर चुके हैं. साल 2012 से लेकर साल 2018 तक कांग्रेस पार्टी की तरफ से राज्य सभा की सदस्यता को सुशोभित करने वाले प्रदीप कुमार बालमुचू साल 2006 से लेकर साल 2011 तक झारखंड विधानसभा में स्पीकर पद पर रह चुके हैं. प्रदीप कुमार बालमुचु झारखंड के घाटशिला से लगातार तीन बार विधायक का चुनाव जीतकर लगातार वहां का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं.

    प्रदीप कुमार बालमुचु साल 1995,2000 और साल साल 2006 में लगातार तीन बार घाटशिला विधानसभा से चुने जा चुके हैं. साल 2014 में जब वो राज्यसभा के सदस्य थे तब उनकी जगह उनकी बेटी सिनड्रेला मुर्मु कांग्रेस पार्टी की टिकट पर चुनाव लड़ी थी लेकिन उन्हें बीजेपी प्रत्याशी ने विधानसभा चुनाव में पटखनी दे दी थी.

    निष्ठावान कार्यकर्ताओं की अनदेखी का लगाया आरोप
    आजसू ज्वाइन करने से पहले जब उनसे पूछा गया कि क्या वो टिकट की चाहत में कांग्रेस छोड़कर आजसू ज्वाइन कर रहे हैं तो उन्होंने इसे सिरे से खारिज करते हुए कहा कि छात्र जीवन में राजनीति की शुरुआत आजसू ज्वाइन करके ही की थी. कांग्रेस पार्टी उन्हें घाटशिला छोड़कर कहीं और से चुनाव लड़ाना चाहती थी जो उनके हिसाब से उनके समर्थकों और घाटशिला क्षेत्र का अपमान होता. दरअसल प्रदीप कुमार बालमुचु ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि दो साल से पार्टी में उनके कई मांगों पर विचार न करते हुए उनकी लगातार अनदेखी कर रहा था.वो पिछले 30 सालों से लगातार कांग्रेस की सेवा कर रहे थे लेकिन कांग्रेस के कर्तब्यनिष्ठ कार्यकर्ताओं की अनदेखी देखकर वो पार्टी छोड़ने को बाध्य हुए हैं. प्रदीप कुमार बालमुचू ने कहा कि घाटशिला से वो तीन बार एमएल ए रहे हैं इसलिए पार्टी ने इस सीट पर दावा छोड़कर जेएमएम के आगे घुटने टेक दिए हैं.

    प्रदीप कुमार बालमुचू
    प्रदीप कुमार बालमुचू


    ध्यान देने वाली बात यह है कि इस विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का गठबंधन झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम),और आरजेडी के साथ है . इस गठबंधन के अंतर्गत जेएमएम 43 सीटों पर और कांग्रेस 33 सीटों पर वहीं आरजेडी 7 सीटों पर चुनाव मैदान में अपने प्रत्याशी को उतार चुकी है.

    पारिवारिक और शैक्षणिक पृष्ठभूमि
    जमशेदपुर में जन्मे प्रदीप कुमार बालमुचू कॉपरेटिव कॉलेज जमशेदपुर से बी. कॉम की पढ़ाई पूरी की और उसके बाद उन्होंने शैक्षणिक योग्यता को आगे बढ़ाते हुए पीएचडी की डिग्री भी हासिल की. छात्र जीवन से ही एक्टिव पॉलिटिक्स में रुचि रखने वाले प्रदीप कुमार बालमुचू मध्यम वर्गीय परिवार से ताल्लुक रखते हैं और आदिवासियों की समस्या के लिए पार्टी के अंदर और बाहर मुखर रहे हैं. कांग्रेस से त्याग पत्र देते हुए उन्होंने भारी मन से पार्टी को छोड़ने की बात कही और कहा कि घाटशिला से वो तीन बार एमएलए रहे वहीं जेएमएम एक बार वो सीट जीती है इसलिए वहां कांग्रेस ने अपना दावा छोड़कर निष्ठावान कार्यकर्ताओं और पार्टी का अपमान किया है जिसका उन्हें बेहद दुख है.
    ये भी पढ़ें:

    नागरिकता कानून के विरोध पर सोनिया बोलीं-सरकार लोगों की आवाज बर्बरतापूर्वक दबा रही

    81 सीटों के लिए जनता का फैसला ईवीएम में बंद, अब 23 को नतीजे आने का इंतजार

    Tags: CM Raghubar Das, Ghatsila Assembly Result S27a045, Jharkhand Assembly Election 2019, Jharkhand Assembly Profile

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर