लाइव टीवी

Jharkhand Assembly Elections: 81 सीटों के लिए जनता का फैसला ईवीएम में बंद, अब 23 को नतीजे आने का इंतजार
Ranchi News in Hindi

Naween Jha | News18 Jharkhand
Updated: December 20, 2019, 6:30 PM IST
Jharkhand Assembly Elections: 81 सीटों के लिए जनता का फैसला ईवीएम में बंद, अब 23 को नतीजे आने का इंतजार
झारखंड की जनता ने सभी 81 विधानसभा सीटों के लिए अपना फैसला ईवीएम में बंद कर दिया है.

चुनाव में जनता ने मुख्यमंत्री रघुवर दास, पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी, आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो की किस्मत ईवीएम में बंद कर दी है. 23 दिसंबर को इनके लिए जनता का फैसला सामने आएगा

  • Share this:
रांची. झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Election) के पांचवें और अंतिम चरण में 16 सीटों पर शुक्रवार को मतदान संपन्न हो गया. इसी के साथ सभी 81 सीटों पर पांच चरणों में मतदान की प्रक्रिया पूरी हो गई. अब सबकी नजरें 23 दिसबंर पर टिकी हैं. उस दिन नतीजे सामने आएंगे. कुल मिलाकर झारखंड में विधानसभा चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हुआ. करीब डेढ़ महीने चले चुनाव में कहीं कोई अप्रिय घटना नहीं घटी.

पांच चरणों के चुनाव में पहले चरण के लिए 30 नवंबर को वोट डाले गये. जिसमें 13 सीटों पर 64.12 प्रतिशत वोटिंग हुई. दूसरे चरण में 7 दिसंबर को 19 सीटों पर मतदान हुई. और 65.85 फीसदी वोटिंग रिकॉर्ड की गई. तीसरे चरण में 12 दिसंबर को 17 सीटों पर 62.58 प्रतिशत मतदान हुआ. वहीं चौथे चरण में 16 दिसंबर को 15 सीटों पर 63.55 फीसदी वोटिंग हुई. वहीं पांचवें व अंतिम चरण में शुक्रवार को 16 सीटों पर 70.83 प्रतिशत मतदान हुआ.

चुनाव में जनता ने मुख्यमंत्री रघुवर दास, पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी, आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो की किस्मत ईवीएम में बंद कर दी है. सीएम रघुवर दास जमशेदपुर पूर्वी सीट से, हेमंत सोरेन दुमका और बरहेट से, बाबूलाल मरांडी राजधनवार से और सुदेश महतो ने सिल्ली सीट से चुनाव लड़े. सीएम को उनके ही मंत्री सरयू राय ने जमशेदपुर पूर्वी सीट पर चुनौती दी. सीएम यहां से 5 बार विधायक रहे हैं. इस बार छठी बार मुकाबले में हैं.

विधानसभा चुनाव के दौरान सभी दलों ने प्रचार में पूरी ताकत झोंकी. स्टार प्रचारकों ने ताबड़तोड़ सभाएं की. बीजेपी की ओर से पीएम मोदी की 9 सभाएं और पार्टी अध्यक्ष व गृह मंत्री अमित शाह की 11 सभाएं हुईं. उनके अलावा जेपी नड्डा समेत कई केन्द्रीय मंत्रियों और सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रचार किया. वहीं कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, सचिन पायलट, ज्योतिरादित्य सिंधिया और सीएम भूपेश बघेल ने सभाएं की. विपक्ष की ओर से हेमंत सोरेन और तेजस्वी यादव ने भी प्रचार किया. बाबूलाल मरांडी ने भी सभाएं की.

बीजेपी अकेले विधानसभा चुनाव लड़ी. सीट बंटवारे पर तालमेल नहीं होने के कारण आजसू ने भी बीजेपी से किनारा कर अकेले मैदान में उतरने का फैसला किया. जेवीएम भी अकेले मैदान में ताल ठोकती नजर आई. जबकि जेएमएम, कांग्रेस और आरजेडी ने महागठबंधन बनाकर चुनाव लड़ा.

2014 विधानसभा चुनाव की बात करें, तो बीजेपी को 37, जेएमएम को 19, जेवीएम को 8, आजसू को  5 और कांग्रेस को 6 सीटों पर जीत मिली थी. अन्य को 6 सीटें मिली थीं.

ये भी पढ़ें-  Jharkhand Assembly Elections (5th Phase): सभी 16 सीटों पर मतदान खत्म, 5 बजे तक 68.99% वोटिंग 

 

 

  

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 20, 2019, 6:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर