Home /News /jharkhand /

Assembly Winter Session: झारखंड विधानसभा में JPSC पर तकरार, विपक्षी सदस्‍यों का कार्यस्‍थगन प्रस्‍ताव अमान्‍य

Assembly Winter Session: झारखंड विधानसभा में JPSC पर तकरार, विपक्षी सदस्‍यों का कार्यस्‍थगन प्रस्‍ताव अमान्‍य

Jharkhand Assembly Winter Session-2021: झारखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र की शुरुआत सोमवार को भी हंगामे के साथ हुई. झारखंड लोकसेवा आयोग की ओर से आयोजित सिविल सर्विसेज की परीक्षा में कथित गड़बड़ी को लेकर भाजपा समेत अन्‍य विपक्षी दल आक्रामक दिखे. सदस्‍यों ने वेल में आकर प्रदर्शन करे. सदस्‍यों के उग्र तेवर को देखते हुए सदन की कार्यवाही दोपहर 12:30 तक स्‍थगित कर दी गई.

अधिक पढ़ें ...

    अविनाश कुमार

    रांची. झारखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र में झारखंड लोकसेवा आयोग की ओर से आयोजित सिविल सर्विसेज में कथित गड़बड़ी का मामला छाया हुआ है. सोमवार को भी सदन की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्षियों ने इस मुद्दे को लेकर हंगामा शुरू कर दिया. विपक्षी सदस्‍य वेल तक में पहुंच गए. विपक्षी पार्टियों के सदस्‍य जेपीएससी-सिविल सर्विसेज की प्रारंभिक परीक्षा में कथित गड़बड़ी की सीबआई से जांच कराने और आयोग के अध्‍यक्ष को बर्खास्‍त करने की मांग पर अड़े हैं. सदस्‍यों के आक्रामक रवैये को देखते हुए सदन की कार्यवाही दोपहर 12:30 तक के लिए स्‍थगित करनी पड़ी. सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू होने पर भी विपक्षी दल मुख्‍यमंत्री के सदन में आने की मांग पर अड़े रहे. हंगामे के बीच सीएम हेमंत सोरेन सदन में पहुंचे. वहीं, विपक्षी दलों की ओर से पेश कार्यस्‍थगन के प्रस्‍ताव को भी अमान्‍य करार दे दिया गया.

    जेपीएससी की परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर भाजपा के सदस्‍य वेल में जा पहुंचे और नारेबाजी करने लगे. विपक्षी सदस्‍यों ने इस पूरे मामले की जांच कराने और आयोग के अध्‍यक्ष को बर्खास्‍त करने की मांग भी की. दूसरी तरफ, कांग्रेस सदस्‍य इरफान अंसारी और उमाशंकर अकेला भी वेल में पहुंच गए. उन्‍होंने बीजेपी विधायकों की नारेबाजी पर आपत्ति जताई. इस तरह सदन में सोमवार को हंगामे के बीच टकराव के हालात भी बन गए. बाद में भाजपा विधायक अपने स्‍थान पर लौट आए. भाजपा के विधायकों ने कहा कि सदन के नेता इस मसले पर बाहर बोलने के बजाय सदन के अंदर जवाब दें.

    Omicron Alert: सदर अस्‍पताल में खुला आइसोलेशन वार्ड, RIMS में भी पूरी तैयारी

    कार्यस्‍थगन प्रस्‍ताव अमान्‍य
    विपक्षी सदस्‍यों ने विभिन्‍न मुद्दों को लेकर विधानसभा में कार्यस्‍थगन प्रस्‍ताव पेश किया था. अनंत ओझा, लंबोदर महतो, विनोद सिंह, अमित मंडल, भानुप्रताप शाही और मनीष जायसवाल की ओर से पेश कार्यस्‍थगन का प्रस्‍ताव अमान्‍य करार दे दिया गया. बता दें कि कार्यस्‍थगन प्रस्‍ताव स्‍वीकार होने पर सूचीबद्ध विषयों को छोड़कर सबसे पहले संबंधित मसलों पर बहस कराई जाती है. विपक्षी सदस्‍यों ने जेपीएससी-सिविल सेवा प्रारंभिग परीक्षा में कथित धांधली जंगली हाथियों के तांडव और नियुक्ति नियमावली जैसे विषयों को लेकर कार्यस्‍थगन का प्रस्‍ताव दिया था.

     विधानसभा अध्‍यक्ष बोले- कड़ाके की ठंड में आए हैं…
    सदन की कर्यवाही शुरू होते ही हंगामा शुरू हो गया. हंगामा बढ़ता देख विधानसभा अध्‍यक्ष रबींद्र नाथ महतो ने हंगामा करने वाले सदस्‍यों से कहा कि आपलोग कड़ाके की ठंड में सदन में पहुंचे हैं, ऐसे में जनता से जुड़े सवाल पूछें. विधानसभा अध्‍यक्ष ने इस दौरान सदन की कार्यवाही को बाधित न करने की भी अपील की, लेकिन सदस्‍य लगातार अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी करते रहे.

    Tags: Jharkhand news, Winter Session

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर