Home /News /jharkhand /

हथियार तस्करों का सरताज BSF जवान 14 पिस्टल और 8000 गोलियों के साथ गिरफ्तार, झारखंड ATS को पंजाब में मिली बड़ी सफलता

हथियार तस्करों का सरताज BSF जवान 14 पिस्टल और 8000 गोलियों के साथ गिरफ्तार, झारखंड ATS को पंजाब में मिली बड़ी सफलता

झारखंड एटीएस ने हथियार तस्करी के आरोप में पंजाब से बीएसएफ जवान को गिरफ्तार किया है.

झारखंड एटीएस ने हथियार तस्करी के आरोप में पंजाब से बीएसएफ जवान को गिरफ्तार किया है.

Jharkhand News: झारखंड एटीएस ने हथियार तस्करी के आरोप में सीआरपीएफ-182 बटालियन के जवान अविनाश कुमार को गिरफ्तार किया था. उसकी निशानदेही पर अब पंजाब के फिरोजपुर स्थित बीएसएफ बटालियन-116 के एक जवान को इस नेटवर्क के किंगपिन के रूप में चिन्हित करते हुए गिरफ्तार किया गया है. उसके पास से भारी मात्रा में कारतूस और पिस्टल बरामद किये गये हैं.

अधिक पढ़ें ...

रांची. झारखंड एटीएस को बड़ी सफलता हाथ लगी. एटीएस ने देशभर में उग्रवादी और आपराधिक संगठनों को हथियार सप्लाई करने वाले नेटवर्क का खुलासा करते हुए 4 लोगों को गिरफ्तार किया. इससे पहले हथियार सप्लाई के मामले में सीआरपीएफ जवान को दबोचा गया था, लेकिन इस बार पंजाब के बीएसएफ जवान को इस पूरे नेटवर्क के किंगपिन के रूप में गिरफ्तार किया गया है. उसकी निशानदेही पर 14 पिस्टल और 8 हजार से ज्यादा कारतूस बरामद किए गए हैं.

अवैध हथियारों के नेटवर्क का खुलासे करते हुए आईजी अभियान अमोल विणुकान्त होमकर ने बताया कि राज्य में जितने भी उग्रवादी संगठन और आपराधिक गिरोह हैं, उनके खिलाफ ठोस कार्रवाई के लिए और उनके आर्म्स सप्लाई चेन को तोड़ने के लिए कार्रवाई की जा रही है. इस सिलसिले में कई इंटर स्टेट नेटवर्क उजागर हुए हैं.

उन्होंने बताया कि झारखंड एटीएस की टीम कई दिनों से झारखंड के अलावा पंजाब, राजस्थान, बंगाल, महाराष्ट्र और एमपी में लगातार छापेमारी कर रही थी. इसी छापेमारी के क्रम में एटीएस के द्वारा बड़े नेटवर्क का खुलासा किया गया है. यह गिरोह पूरे देश में उग्रवादी संगठनों के साथ-साथ बड़े-बड़े अपराधिक गिरोह को आर्म्स सप्लाई करता था.

आईजी के मुताबिक इस सिलसिले में सीआरपीएफ-182 बटालियन के जवान अविनाश कुमार को गिरफ्तार किया गया था. उसके बाद इस नेटवर्क से जुड़ी कई कड़ियां सामने आई और कई लोग पकड़े गए हैं. पंजाब के फिरोजपुर बीएसएफ बटालियन-116 के एक जवान को इस नेटवर्क के किंगपिन के रूप में चिन्हित करते हुए गिरफ्तार किया गया है. बीएसएफ कैंप से भारी मात्रा में कारतूस समेत कई आपत्तिजनक सामान भी बरामद किए गए हैं. बीएसएफ से एक रिटायर्ड जवान को भी गिरफ्तार किया गया है.

एटीएस एसपी प्रशांत आनंद ने बताया कि हथियार सप्लायर की गिरफ्तारी के बाद कई एजेंसियों को भी जानकारी दी जा रही है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अरुण कुमार सिंह, बीएसएफ 116 बटालियन के रिटायर्ड जवान हैं. उसे बीएसएफ के जवानों को इस गिरोह से जोड़ने की जिम्मेदारी मिली थी. वहीं कार्तिक बहरा 116 बीएसएफ बटालियन फिरोजपुर में कार्यरत था. इसके अलावा तीन की गिरफ्तारी महाराष्ट्र बुलढाणा जिले से कुमार गुरलाल, शिवलाल धवन और हीरालाल कुमार के रूप में हुई है. ये तीनों मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के बॉर्डर इलाके में हथियार सप्लाई का अवैध कारोबार में लिप्त थे.

Tags: Arms Smuggling, Jharkhand news, Jharkhand Police, Ranchi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर