Monsoon in Jharkhand : कब पहुंच रहा है मानसून, इस बार झारखंड में कितनी होगी बारिश?

झारखंड में जून के मध्य में मानसून दस्तक दे सकता है.

झारखंड में जून के मध्य में मानसून दस्तक दे सकता है.

मौसम विभाग की मानें तो अगले दस दिनों के भीतर झारखंड में मानसून दस्तक दे देगा और 18 जून तक तो मानसून के पूरी तरह आ जाने की पूरी संभावना है. जानिए क्या कह रहे हैं अनुमान और आंकड़े.

  • Share this:

नई दिल्ली/रांची. चक्रवाती तूफानों के कारण मई के महीने में ही भारी बारिश झेल चुके पूर्वी राज्यों में मानसून 15 जून तक पहुंच जाने की संभावना है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की मानें तो देश के दक्षिण पश्चिमी हिस्सों से मानसून अच्छी तरह बढ़ रहा है और अगले दस दिनों में बिहार, झारखंड, ओडिशा और पश्चिम बंगाल में दस्तक दे सकता है. दक्षिण पश्चिमी समुद्र से उठा मानसून पश्चिमी और दक्षिणी राज्यों में दस्तक दे चुका है, साथ ही एक हफ्ते में बंगाल की खाड़ी में भी एक निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की उम्मीद मौसम विभाग ने ज़ाहिर की है.

मौसम विभाग के राष्ट्रीय मौसम भविष्यवाणी केंद्र में पदस्थ राजेंद्र जेनामनी के हवाले से समाचार एजेंसी ने बताया कि 7 से 8 जून के बीच बारिश रुक जाने की संभावना है. जेनामनी के मुताबिक 'एक निम्न दबाव का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में 11 जून तक बनने की उम्मीद है. इससे झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल और बिहार तक मानसून के बढ़ने में मदद मिलेगी.'

ये भी पढ़ें : झारखंड अब ऑक्सीजन सिलेंडरों की खरीदी पर केंद्र से भिड़ा, हाई कोर्ट ने मांगा जवाब

jharkhand news, bihar news, weather news, weather forecast, झारखंड न्यूज़, बिहार न्यूज़, मौसम समाचार, मौसम भविष्यवाणी
झारखंड में इस बार मानसून सीज़न में अच्छी बारिश के आसार हैं.

झारखंड में मौसम का हाल

इस साल मानसून के दौरान झारखंड में अच्छी बारिश की संभावना मौसम विभाग ने व्यक्त की है. रांची और आसपास मानसून आने तक बादल छाये रहने, हल्की बारिश होने और 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार तक हवाएं चलने का अनुमान भी दिया गया है. यह भी कहा गया कि छत्तीसगढ़ में बन रहे निम्न दबाव वाले क्षेत्र का असर झारखंड के कई ज़िलों में पड़ेगा. जून महीने के पहले चार-पांच दिनों में राज्य में 43 मिलीमीटर बारिश दर्ज की जा चुकी है.

ये भी पढ़ें : शराब माफियाओं के लिए 'पोंटी चड्ढा मॉडल' बनाना चाहती है झारखंड सरकार : भाजपा



जून में सामान्य बारिश होगी

मौसम विभाग की भविष्यवाणी के मुताबिक जून में सामान्य बारिश हो सकती है. इसके साथ ही, पूरे देश में अगले पांच दिनों के दौरान कहीं भी लू चलने की संभावना भी नहीं है. मौसम विभाग ने यह भी बताया कि राजस्थान के कई पश्चिमी हिस्सों में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, सौराष्ट्र, कच्छ और ओडिशा के गर्म इलाकों में भी तापमान 40 डिग्री के आसपास ही दिखा. शुक्रवार को अधिकतम तापमान 43.2 डिग्री के साथ उत्तर प्रदेश का बांदा सबसे गर्म इलाकों में रहा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज