झारखंड: रेप के आरोपी BJP विधायक ढुल्लू महतो को हाईकोर्ट से मिली जमानत, जेल से हुए रिहा
Ranchi News in Hindi

झारखंड: रेप के आरोपी BJP विधायक ढुल्लू महतो को हाईकोर्ट से मिली जमानत, जेल से हुए रिहा
धनबाद में जेल से रिहा होने के बाद महतो ने आरोप लगाया कि उन्हें सभी मामलों में राजनीतिक रंजिश के तहत फंसाया गया है. (फाइल फोटो)

विधायक ढुल्लू महतो (MLA Dhullu Mahato) के वकील ने अदालत में कहा था कि उनके मुवक्किल को साजिश के तहत फंसाया गया है. दूसरी तरफ, झारखंड सरकार ने कहा था कि विधायक के खिलाफ 34 से अधिक मामले दर्ज हैं.

  • Share this:
रांची. झारखंड उच्च न्यायालय (Jharkhand High Court) ने भाजपा की एक महिला नेता के यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद बाघमारा विधानसभा क्षेत्र से विधायक ढुल्लू महतो (MLA Dhullu Mahato) की जमानत शुक्रवार को मंजूर कर ली, जिसके बाद उन्हें जेल से रिहा कर दिया गया. महतो इस वर्ष 11 मई से धनबाद की जेल में बंद थे. न्यायमूर्ति आर मुखोपाध्याय (Justice R. Mukhopadhyay) की पीठ ने भाजपा नेता महतो की जमानत मंजूर करने का फैसला शुक्रवार को सुनाया. इस मामले में न्यायालय ने अपना फैसला बहस के बाद सुरक्षित रखा था. धनबाद की निचली अदालत से जमानत याचिका खारिज होने के बाद महतो ने उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था.

महतो के वकील ने अदालत में कहा था कि उनके मुवक्किल को साजिश के तहत फंसाया गया है. दूसरी तरफ, झारखंड सरकार ने कहा था कि विधायक के खिलाफ 34 से अधिक मामले दर्ज हैं. यौन शोषण के इस मामले को छोड़ कर अन्य सभी मामलों में उन्हें पहले ही जमानत मिल चुकी थी. धनबाद में जेल से रिहा होने के बाद महतो ने आरोप लगाया कि उन्हें सभी मामलों में राजनीतिक रंजिश के तहत फंसाया गया है.

क्या है मामला
बता दें कि एक महिला नेत्री ने विधायक ढुल्लू महतो पर दुष्कर्म के प्रयास का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया था. तब इस मामले में ढुल्लू महतो की अग्रिम जमानत याचिका सेशन कोर्ट और हाईकोर्ट से खारिज हो चुकी थी. वहीं चचेरे भाई किरण महतो की हाइवा-पेलोडर लूट के मामले में पुलिस ने जांच के बाद विधायक पर डकैती की धारा-395 के तहत मामला चलाने की अनुशंसा की थी.
जमीन कब्जा करने के भी तीन मामले दर्ज 


वहीं जमीन कब्जे से संबंधित विधायक के खिलाफ तीन मामले दर्ज किए गए हैं. इनमें से डोमन महतो वाले मामले में समझौता पत्र दाखिल होने के बाद विधायक को सेशन कोर्ट से अग्रिम जमानत मिल चुकी है, जबकि राजीव कुमार श्रीवास्तव की जमीन पर जबरन कब्जा मामले में गैर जमानतीय धारा में प्राथमिकी दर्ज की गई है. जमीन कब्जा करने के एक अन्य मामले में भी उनके खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading