Home /News /jharkhand /

Jharkhand Cold Weather Update: झारखंड में सर्दी के मौसम की आहट, छाने लगा कोहरा

Jharkhand Cold Weather Update: झारखंड में सर्दी के मौसम की आहट, छाने लगा कोहरा

Lite Fog in Ranchi: रांची में मौसम ने करवट बदलना शुरू कर दिया है. शाम के बाद ठंडक बढ़ने की संभावना जताई गई है. (फाइल फोटो)

Lite Fog in Ranchi: रांची में मौसम ने करवट बदलना शुरू कर दिया है. शाम के बाद ठंडक बढ़ने की संभावना जताई गई है. (फाइल फोटो)

Cold Weather in Jharkhand: कई दिनों तक मूसलाधार बारिश के बाद अब झारखंड में ठंड के मौसम के आगमन की आहट दिखाई देने लगी है. राजधानी रांची के बाहरी इलाकों में हल्‍का कोहरा छाने लगा है. मौसम विभाग ने शाम के बाद तापमान में गिरावट आने का पूर्वानुमान जताया है.

अधिक पढ़ें ...

    रांची. झारखंड में दक्षिण-पूर्व मानसून की विदाई की घोषणा के बाद भी कई दिनों तक बारिश हुई. बंगाल की खाड़ी में निम्‍न दबाव का क्षेत्र बनने और लगातार चक्रवात उठने के कारण झारखंड में इस बार भरपूर बारिश हुई. इसके बाद प्रदेश में अब ठंड की आमद का एहसास होने लगा है. राजधानी रांची के बाहरी इलाकों में हल्‍का कोहरा छाने लगा है. वहीं, न्‍यूनतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की जा रही है. ऐसे में शाम के बाद ठंड बढ़ने की संभावना जताई गई है. इससे पहले कुछ दिन पूर्व भी मौसम विभाग के रांची मौसम विज्ञान केंद्र ने वातावरण में अत्‍यधिक नमी के कारण कोहरा छाने और ठंड बढ़ने की बात कही गई थी.

    मौसम विभाग ने दिन में मौसम साफ रहने और रात के तापमान में गिरावट होने की बात कही है. दरअसल, वातावरण में आर्द्रता ज्यादा होने के कारण ओस और हल्का कोहरा छाने की संभावना जताई गई है. इसे चलते शाम के बाद लोगों को हल्की ठंड महसूस होने की बात कही गई है. झारखंड में पिछले कुछ दिनों से बारिश न होने के कारण आसमान प्राय: साफ है.

    Jharkhand weather latest updates

    झारखंड में न्‍यूनतम तापमान में गिरावट हो रही है. (गूगल वेदर स्‍क्रीनशॉट)

    गौरतलब है कि झारखंड में दक्षिण-पश्चिम मानसून के शुरुआत दौर में कई हिस्‍सों में उम्‍मीद के मुताबिक बारिश दर्ज नहीं की गई थी. बाद के दिनों में प्रदेश में जमकर बारिश हुई. बंगाल की खाड़ी में मौसमी दशाओं के परिवर्तन के कारण झारखंड के कई हिस्‍सों में कई दिनों तक मूसलाधार बारिश हुई. इससे नदी-नालों के साथ ही बड़े-बड़े बांध भी लबालब हो गए.

    झारखंड से गुजरने वाली कई ट्रेनों के ओरिजिन स्‍टेशन में होगा बदलाव, टाइमिंग को लेकर भी घोषणा

    झारखंड में सबसे ज्यादा बारिश पश्चिमी सिंहभूम में (236 प्रतिशत ज्यादा बारिश) दर्ज की गई. इसके अलावा देवघर में सामान्‍य से 155 और गिरिडीह में 110 प्रतिशत ज्यादा बारिश हुई. प्रदेश में सबसे कम बारिश पाकुड़ में हुई. यहां सामान्‍य से 40 फीसद कम बारिश हुई. सामान्‍य तौर पर झारखंड में इस बार सामान्‍य से ज्‍यादा बारिश रिकॉर्ड किया गया. मानसून के अंतिम दौर में अत्‍यधिक बारिश होने के कारण फसलों को व्‍यापक पैमाने पर नुकसान पहुंचा.

    मानसून के विदा होने के बाद भी झारखंड में कई दिनों तक बारिश हुई. दरअसल, बंगाल की खाड़ी में लगातार निम्‍न दबाव के क्षेत्र बनते रहे. इसके अतिरिक्‍त चक्रवाती तूफान का असर भी झारखंड के मौसम पर पड़ा. इसके चलते प्रदेश में लगातार बारिश होती रही. रांची मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानियों का कहना है कि लगातार बारिश के कारण वातावरण में काफी नमी है, इसके चलते ठंड और कोहरा छाने का अनुमान है.

    Tags: Cold, IMD forecast, Jharkhand weather News

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर