झारखंड: बहाना बनाकर घरों में छुपे डॉक्टरों का होगा कोरोना टेस्ट, निगेटिव मिले तो कड़ी कार्रवाई

रांची में बहानेबाज डॉक्टरों और शिक्षकों के खिलाफ काईरवाई के मूड में दिखे डीएम.

रांची में बहानेबाज डॉक्टरों और शिक्षकों के खिलाफ काईरवाई के मूड में दिखे डीएम.

कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज करने से बचने के लिए जो डॉक्टर (Doctor) खुद को कोरोना संक्रमित बताकर अपने-अपने घरों में कैद हो गये हैं उनका कोरोना टेस्ट (Corona Test) कराया जाएगा. रांची जिला प्रशासन ने ऐसे डॉक्टरों की लिस्ट तैयार कर ली है.

  • Share this:
रांची. कोरोना महामारी के दौर में कोविड-19 मरीजों का इलाज ना करना पड़े इसके लिए कई डॉक्टरों (Doctors) ने खुद को कोरोना संक्रमित बताया और होम आइसोलेशन में चले गये हैं. लेकिन प्रशासन को अभी तक कोई भी रिपोर्ट मुहैया नहीं कराई है. इसके बाद रांची के उपायुक्त अब एक्शन में आ गये हैं.

ऐसे डॉक्टरों की एक लिस्ट तैयार की गई है जिन्होंने अपने संक्रमित होने की जानकारी नोटिस के बाद दी है. लेकिन, उन्होंने इसका कोई भी साक्ष्य अर्थात् रिपोर्ट साझा नहीं की है जिसे देखते हुए रांची उपायुक्त छवि रंजन ने एसडीओ रांची को ये निर्देश दिया है कि ऐसे डॉक्टरों का घर जाकर कोविड टेस्ट कराया जाए ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके.

Youtube Video


वहीं वैसे डॉक्टर और पैरा मेडिकल स्टाफ जो अब तक अपना योगदान प्रतिनियुक्ति स्थल पर नहीं दे रहे हैं उनके खिलाफ भी कार्रवाई की तलवार लटक चुकी है. रांची उपायुक्त ने बताया कि वर्तमान जो स्थिति है उससे निपटने के लिए जिला प्रशासन लगातार कार्य कर रहा है. बावजूद चिकित्सकों और पैरा मेडिकल स्टाफ की कमी के कारण स्थितियां पूरी तरह से दुरुस्त नहीं हो पा रही हैं. वहीं कुछ शिक्षक भी ऐसे हैं जिनका डेप्यूटेशन मजिस्ट्रेट के तौर पर सदर अस्पताल और रिसालदार सीएचसी में किया गया था. लेकिन, वे भी अब तक अपना योगदान नहीं दे रहे हैं.
Jharkhand Corona Update : बीते 24 घंटे में 6323 संक्रमित मिले, 159 मरीजों की जान गई

उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई के साथ-साथ वेतन पर रोक का आदेश जारी किया गया है. वहीं शो कॉज नोटिस का जवाब 24 घंटे के भीतर देने का निर्देश भी इन सभी को दिया गया है. वहीं न देने पर डीएम एक्ट और आईपीसी एक्ट के साथ साथ आपदा प्रबंधन का केस भी दर्ज करने की बात कही गई है. वहीं डॉक्टरों की लाइसेंस और पैरा मेडिकल स्टाफ की संविदा भी रद्द करने की अनुसंशा भी की जाएगी.

रांची सदर अस्पताल डिस्ट्रिक्ट कोविड हेल्थ सेन्टर, में प्रतिनियुक्त  16 चिकित्सकों ने कोविड पॉजिटिव होने की दी जानकारी, लेकिन डॉक्टरों ने कोई रिपोर्ट नहीं सौपी है.



देखिए 16 चिकित्सकों की सूची

1. डॉ. राकेश कुमार 2. डॉ. संध्या सिन्हा 3. डॉ. संकेश 4. डॉ. सरिता कच्छप 5. डॉ. संदीप कुमार 6. डॉ. अंशुमन 7. डॉ. रितेश रंजन 8. डॉ. लाल मांझी 9. डॉ. लिली मेरी बिलुंग 10. डॉ. पल्लवी शर्मा 11. डॉ. लक्की लिंडा 12. डॉ. अलख निरंजन मिश्रा 13. डॉ. सुमित्रा कुमारी 14. डॉ. दयानंद सरस्वती 15. डॉ. नरेश भगत 16. डॉ. स्वाति चैतन्य

सदर अस्पताल रांची डिस्ट्रिक्ट कोविड हेल्थ सेन्टर में 4 डॉक्टरों को शोकॉज नोटिस भेजा गया है इन डॉक्टरों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के साथ लाइसेंस रद्द करने की भी कार्रवाई होगी.

डॉक्टरों की सूची

1. डॉ. मेरी रंजना टोप्पो, सी एच सी राहे 2. डॉ. मुकुल कुमार, आयुष चिकित्सक 3. डॉ. वरुण तिवारी, सदर अस्पताल रांची 4. डॉ. निरुपमा.

सी एच सी लापुंग सदर अस्पताल रांची डिस्ट्रिक्ट कोविड हेल्थ सेन्टर में शिक्षकों  ने  प्रतिनियुक्ति स्थल पर योगदान नहीं देने पर DM Act 2005 और CrPC के तहत कार्रवाई का निर्देश दिया है. विभागीय कार्रवाई भी की जाएगी. जवाब आने तक इनका वेतन स्थगित होगा.

इन शिक्षकों की सूची

1. राजेश 2. संजय कुमार 3. विवेक रक्षित

34 पैरामेडिकल स्टाफ नर्सिंग स्टाफ पर भी कार्रवाई की तैयारी की जा रही है. प्रतिनियुक्ति स्थल पर योगदान नहीं देने पर उपायुक्त ने दिया निर्देश. DM ACT2005 और CrPC के तहत कार्रवाई होगी. संविदा रद्द करने की होगी कार्रवाई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज