लाइव टीवी

अखबार की नजर में झारखंड चुनाव परिणाम: हेमंत के आने पर कमल नहीं दिखाई देता- प्रभात खबर
Ranchi News in Hindi


Updated: December 24, 2019, 1:25 PM IST
अखबार की नजर में झारखंड चुनाव परिणाम: हेमंत के आने पर कमल नहीं दिखाई देता- प्रभात खबर
हेमंत सोरेन की अगुवाई में गठबंधन ने झारखंड विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत हासिल की है. (PTI) (PTI12_23_2019_000156B)

Jharkhand Verdict: झारखंड में JMM की अगुवाई में महागठबंधन की अप्रत्‍याशित जीत पर राजधानी रांची से प्रकाशित होने वाले सभी समाचारपत्रों ने सुर्खियां लगाई हैं. 'प्रभात खबर' ने महाकवि कालिदास (Mahakavi Kalidas) की महान कृति 'ऋतुसंहार' की एक चौपाई का उल्‍लेख करते हुए लिखा कि 'हेमंत के आने पर कमल दिखाई नहीं देता है'.

  • Last Updated: December 24, 2019, 1:25 PM IST
  • Share this:
रांची. झारखंड में हेमंत सोरेन की अगुवाई में महागठबंधन को बड़ी जीत मिली है. गठबंधन के हिस्‍से में कुल 47 सीटें गई हैं. इनमें से झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM-झामुमो) 30, कांग्रेस 16 और राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) एक सीट जीतने में सफल रही. वहीं, सत्‍तारूढ़ दल BJP के खाते में 25 सीटें गईं. झारखंड में महागठबंधन की जीत पर विभिन्‍न समाचारपत्रों ने दिलचस्‍प सुर्खियां लगाई हैं. इनमें रांची से प्रकाशित होने वाले 'प्रभात खबर' ने दिलचस्‍प हेडिंग लगाई है. अखबार ने महाकवि कालिदास की महान कृति 'ऋतुसंहार' की एक चौपाई को आधार बनाते हुए लिखा, 'हेमंत के आने पर कमल नहीं दिखाई देता'. दरअसल, 'ऋतुसंहार' में छह मौसमों का अनूठा वर्णन किया गया है. इसी में हेमंत ऋतु का वर्णन करते हुए महाकवि कालिदास लिखते हैं- नवप्रवालोद्रमसस्‍यरम्‍यhemant: प्रफुल्‍लोध्र: परिपक्‍वशालि:। विलीनपद्म प्रपतत्‍तुषारो: हेमंतकाल: समुपागता-यम्।।. इसका अर्थ हुआ- हेमंत ऋतु में बीज अंकुरित हो जाते हैं, धान पक कर कटने को तैयार हो जाते हैं, लेकिन इस ऋतु में कमल नहीं दिखाई देता, खेत और सरोवर देख लोगों के दिल हर्षित हो जाते हैं.

Media Coverage Jharkhand Election
'प्रभात खबर' ने लगाई हेडिंग.


हेमंत को गद्दी, रघुवर को वनवास: हिन्‍दुस्‍तान
झारखंड की राजधानी से प्रकाशित होने वाले एक और प्रतिष्ठित समाचारपत्र 'हिन्‍दुस्‍तान' ने सुर्खी लगाई- हेमंत को गद्दी, रघुवर को वनवास. अखबार ने झामुमो के सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरने की बात करते हुए लिखा, 'सोमवार (23 दिसंबर) की सुबह मतों की गणना शुरू होने के साथ ही एग्जिट पोल के नतीजे धराशायी होते चले गए. दोपहर तक जो सियासी तस्‍वीर उभरी वह निश्चित रूप से राज्‍य ही नहीं पूरे देश के लिए अप्रत्‍याशित थी. बीजेपी सत्‍ता गंवा सकती है, इसके कयास तो लग रहे थे, लेकिन खुद मुख्‍यमंत्री (रघुवर दास), प्रदेश अध्‍यक्ष, विधानसभा अध्‍यक्ष और कई मंत्री भी हार का मुंह देखेंगे इसका पूर्वाभास राजनीतिक पंडितों को भी नहीं था. झामुमो का सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उदय भी किसी करिश्‍मे से कम नहीं है.'

Jharkhand elections result
'हिन्‍दुस्‍तान' ने भी दिलचस्‍प हेडिंग लगाई.


हेमंत के राजतिलक का जनादेश: दैनिक जागरण
रांची से ही छपने वाले एक और बड़े अखबार 'दैनिक जागरण' ने भी झारखंड में महागठबंधन की बड़ी जीत को प्रमुख खबर बनाया. समाचारपत्र ने बैनर हेडिग देते हुए लिखा- हेमंत के राजतिलक का जनादेश. अखबार ने लिखा, 'झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन को स्‍पष्‍ट बहुमत मिला है. बीजेपी के हाथ से झारखंड फिसल गया है.' अखबार ने जमशेदपुर (पूर्व) से सीएम रघुवर दास की हार और सरयू राय की जीत को भी अहमियत दी. साथ ही हेमंत द्वारा पिता शिबू सोरेन से आशीर्वाद लेती हुई तस्‍वीर भी प्रमुखता से लगाई है.
Jharkhand elections result
'दैनिक जागरण' ने झारखंड चुनाव परिणाम को लेकर बैनर हेडिंग लगाई.


हेमंत झारखंड के नए महंत: दैनिक भास्‍कर
झारखंड से ही प्रकाशित होने वाले 'दैनिक भास्‍कर' ने प्रदेश में झामुमो की बड़ी जीत पर मुख्‍य हेडिंग लगाई- हेमंत झारखंड के नए महंत. अखबार लिखता है, 'झारखंड की जनता ने अगली सरकार के लिए महागठबंधन पर भरोसा जताया है. झामुमो के कार्यकारी अध्‍यक्ष हेमंत सोरेन के चेहरे पर चुनाव लड़ने वाले महागठबंधन ने 47 सीटें जीतीं, जबकि 'अबकी बार 65 पार' के नारे के साथ बिना किसी गठबंधन के चुनाव लड़ रही भाजपा इस बार 25 सीटों पर सिमट गई.'

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 24, 2019, 1:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर