Home /News /jharkhand /

jharkhand government going to take big step for farmers jhnj

किसानों के लिए बड़ा कदम उठाने जा रही झारखंड सरकार, समीक्षा बैठक में लिया फैसला

झारखंड में चुनिंदा किसानों को ही सरकारी योजना का लाभ मिल रहा है.

झारखंड में चुनिंदा किसानों को ही सरकारी योजना का लाभ मिल रहा है.

कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि राज्य के हर एक किसान तक सरकार की योजना का लाभ पहुंचाना है. राज्य में इस तरह की लगातार सूचना आ रही है कि कुछ खास किसानों को ही सरकारी योजना का लाभ बार - बार मिल रहा है. ऐसे में गठबंधन सरकार ने नये किसानों तक सरकारी योजना पहुंचाने का निर्णय लिया है.

अधिक पढ़ें ...

रांची. झारखंड में अब तक सरकारी सुविधा से वंचित किसानों के लिए एक अच्छी खबर है. सरकारी योजना से वंचित किसानों को राज्य की हेमंत सोरेन सरकार बहुत जल्द प्राथमिकता के आधार पर योजना का लाभ देने जा रही है. झारखंड मंत्रालय में कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अधिकारियों को ये दिशा निर्देश दिया.

समीक्षा बैठक के बाद कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि इसका मकसद हर एक किसान तक सरकार की योजना का लाभ पहुंचाना है. राज्य में इस तरह की लगातार सूचना आ रही है कि कुछ खास किसानों को ही सरकार योजना का लाभ बार – बार मिल रहा है. ऐसे में गठबंधन सरकार ने नये किसानों तक सरकार योजना पहुंचाने का निर्णय लिया है.

मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि हमेशा से ही कृषि सरकार की प्राथमिकता में रही है. राज्य सरकार ने ये निर्णय लिया है कि साहिबगंज, देवघर और पलामू में बन कर तैयार डेयरी प्लांट का उद्घाटन जून माह में किया जाएगा. इसके साथ ही लंबे समय से राज्य में निर्माणाधीन कोल्ड स्टोरेज का कार्य पूर्ण करने के लिये डेड लाइन तय कर दिया गया है, ताकि निश्चित समय सीमा के अंदर कोल्ड स्टोरेज का काम पूरा हो सके. राज्य में कोल्ड स्टोरेज की कमी से किसानों के उत्पाद का सही दाम नहीं मिल पा रहा है और उनके उत्पाद एक समय के बाद खराब हो जा रहे है.

समीक्षा बैठक के दौरान किसानों की ऋण माफी, कृषक पाठशाला, ऑन लाइन बीज और खाद बिक्री के लिये लाइसेंस की शुरुआत भी गई. कृषि विभाग ने KCC लोन के लिये राज्य के बैंकों के साथ समन्वय बना कर एक बड़े लक्ष्य को हासिल करने की योजना बनाई है. पशु धन योजना को लेकर भी विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है.

कृषि मंत्री ने बताया कि राज्य में धान क्रय का लक्ष्य 80 लाख क्विंटल तय किया गया था और विभाग इस लक्ष्य के करीब तक पहुंच गई है. ये अब तक का सबसे ज्यादा धान क्रय होगा. वही पैक्स को एक फिर से जीवंत करने और हर एक परिवार को जोड़ने का लक्ष्य तय किया गया है.

Tags: Farmer, Hemant soren government, Jharkhand Government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर