लाइव टीवी

पूर्व सीएम हेमंत सोरेन के जमीन सौदों की होगी जांच, सरकार ने दिया आदेश

News18 Jharkhand
Updated: October 25, 2019, 10:31 AM IST
पूर्व सीएम हेमंत सोरेन के जमीन सौदों की होगी जांच, सरकार ने दिया आदेश
बीजेपी का आरोप है कि हेमंत सोरेन ने जमीन खरीद में छोटानागपुर काश्तकारी अधिनियम की धारा 46 का उल्लंघन किया है. (फाइल फोटो)

बीजेपी (BJP) का आरोप है कि सोरेन परिवार (Soren Family) ने गलत डीड के जरिये धनबाद, बोकारो और रांची के मोरहाबादी, अरगोड़ा और अनगड़ा इलाके में जमीन खरीदी (Land Purchase) है.

  • Share this:
रांची. राजस्व, निबंधन एवं भूमि सुधार विभाग ने पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) की पत्नी के नाम पर रांची के हरमू में स्थित सोहराय भवन की जमीन खरीद (Land Purchase) मामले की जांच करने का निर्देश दिया है. विभाग के संयुक्त सचिव सुनील कुमार सिंह ने 22 अक्टूबर को पत्र लिखकर रांची के उपायुक्त से इस सिलसिले में रिपोर्ट मांगी है. रांची के अलावा बोकारो और धनबाद के उपायुक्त को भी पत्र लिखा गया है. पत्र में कहा गया है कि भाजपा सांसद समीर उरांव (Sameer Oraon) और अन्य द्वारा लगाए गए आरोपों के सिलसिले में जांच कर प्रतिवेदन उपलब्ध कराएं.

भाजपा सांसद समीर उरांव ने जेएमएम अध्यक्ष शिबू सोरेन और पूर्व सीएम हेमंत सोरेन पर गलत सूचनाओं के आधार पर कई डीड के माध्यम से विभिन्न जगहों पर जमीन खरीदने का आरोप लगाया है. आरोप में कहा गया कि जमीन खरीद में छोटानागपुर काश्तकारी अधिनियम की धारा 46 का उल्लंघन किया गया. बीजेपी प्रतिनिधिमंडल ने इस सिलसिले में मुख्य सचिव से मिलकर ज्ञापन सौंपा था. जिसके बाद गुरुवार को सरकार ने जांच का आदेश जारी किया है. बीजेपी का आरोप है कि सोरेन परिवार ने जहां भी जमीन खरीदा, वहां के निवासी होने का झूठा शपथ पत्र सौंपा. आदिवासियों से औने-पौने दामों पर जमीन हस्तांतरित कराया.

बीजेपी के मुताबिक सोरेन परिवार ने 33 डीड के जरिये धनबाद, बोकारो और रांची के मोरहाबादी, अरगोड़ा और अनगड़ा इलाके में जमीन खरीदी है. हालांकि हेमंत सोरेन बीजेपी के आरोपों का खंडन करते रहे हैं.

इनपुट- नौशाद आलम

ये भी पढ़ें- हरियाणा-महाराष्ट्र के नतीजे पर जेएमएम में इस वजह से खुशी, AIMIM ने भी मनाया जश्न

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 25, 2019, 10:28 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...