लाइव टीवी

झारखंड सरकार का बड़ा ऐलान, अस्पताल में जुटे डॉक्टर समेत अन्य कोरोना वारियर्स को देगी इंसेंटिव
Ranchi News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: April 3, 2020, 9:24 AM IST
झारखंड सरकार का बड़ा ऐलान, अस्पताल में जुटे डॉक्टर समेत अन्य कोरोना वारियर्स को देगी इंसेंटिव
नई तकनीक डॉक्टर और अस्पतालों का बोझ कम करने में मदद करेगी.

स्वास्थ्य मंत्री (Banna Gupta) ने कहा कि आईसीएमआर (ICMR) से दो और सेंटर में कोरोना जांच की अनुमति मिल गयी है. रांची के इटकी टीबी अस्पताल और पीएमसीएच, धनबाद में कोरोना जांच शुरू होगी.

  • Share this:
रांची. कोरोना (Corona) के खिलाफ झारखंड सरकार पूरी तरह एक्टिव है. स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता (Banna Gupta) कोरोना से निबटने की तैयारी में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते. गुरुवार को स्वास्थ्य मंत्री रिम्स (RIMS) पहुंचकर अस्पताल के निदेशक, अधीक्षक और डॉक्टरों के साथ बैठक की. और बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि कोरोना के खिलाफ अभियान में लगे डॉक्टरों, नर्सो, पारा मेडिकल स्टाफ को सरकार इंसेंटिव देगी. स्वास्थ्य मंत्री ने रिम्स कोविड सेंटर में सुरक्षा बढ़ाने का भी ऐलान किया. वहीं राज्य में कोरोना के दो और जांच सेंटर बढ़ाने की भी घोषणा की.

पीएमसीएच, धनबाद में शुरू होगी कोरोना जांच 

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आईसीएमआर से दो और सेंटर में कोरोना जांच की अनुमति मिल गयी है. रांची के इटकी टीबी अस्पताल और पीएमसीएच, धनबाद में कोरोना जांच शुरू होगी. इस दौरान रिम्स में स्थायी नियुक्ति के लिए लगातार आक्रोश व्यक्त कर रहे ओटी असिस्टेन्ट और लैब टेक्नीशियन ने स्वास्थ्य मंत्री से मिलकर अपनी बात रखी. मंत्री ने उनके मामले को लेकर सीएम से बात करने का भरोसा दिलाया.



झारखंड में 1,22,400 होम क्वारंटाइन, 7000 हॉस्पिटल क्वारंटाइन



स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि सरकार कोई भी तथ्य नहीं छुपा रही. पिछले 3 दिनों से कोरोना अपडेट राज्य स्तर पर जारी नहीं किए जाने पर मंत्री ने कहा कि सरकार समय-समय पर जानकारी उपलब्ध कराती रहेगी. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में 1,22,400 लोग होम क्वारंटाइन में, जबकि 7000 लोग हॉस्पिटल क्वारंटाइन में हैं.

हिंदपीढ़ी के लोगों से सहयोग करने की अपील 

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि अबतक 490 लोगों जांच की गई है. इनमें 190 की जांच की रिपोर्ट आनी बाकी है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हिंदपीढ़ी के जो लोग जांच से कतरा रहे हैं, वह गलत हैं. ऐसे लोगों के खिलाफ महामारी अधिनियम-1897 के तहत कार्रवाई हो सकती है.

रिपोर्ट- उपेन्द्र कुमार

ये भी पढ़ें- झारखंड में कोरोना का दूसरा केस मिला, हजारीबाग का रहने वाला है संक्रमित शख्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 3, 2020, 9:22 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading