औरैया सड़क हादसा: मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये देगी झारखंड सरकार

मुख्यमंत्री हेमंत सौरेन (सौ. एएनआई)
मुख्यमंत्री हेमंत सौरेन (सौ. एएनआई)

Auraiya Road Accident: हादसे के शिकार हुए सभी 11 मजदूर बोकारो के चास प्रखण्ड के रहने वाले थे. ये लोग राजस्थान में मार्बल फैक्ट्री में काम करते थे. वहां से घर लौट रहे थे.

  • Share this:
रांची. झारखंड सरकार (Jharkhand Government) ने औरैया सड़क हादसे (Auraiya Road Accident) मारे गये 11 मजदूरों को 4-4 लाख रुपये देगी. साथ ही घायलों को तत्काल 50-50 रुपये दिये जाएंगे. शनिवार तड़के उत्तर प्रदेश के औरैया में सड़क हादसा हुआ. इसमें झारखंड में 11 मजदूर (laborers) समेत कुल 24 श्रमिकों की जान चली गई. झारखंड के सभी मजदूर बोकारो जिला के रहने वाले थे. यूपी सरकार ने ट्रक पर मजदूरों के शव को बोकारो भेजा. इसको लेकर सवाल उठाये जा रहे हैं.



शवों के साथ अमानवीय व्यवहार करने का आरोप 
राज्य के पीएचइडी मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि यूपी सरकार ने झारखंड के मृतकों व घायलों के साथ अमानवीय व्यवहार किया. इसके लिए वहां के सीएम को माफी मांगनी चाहिए. झारखंड सरकार मृतक के परिजनों को 4 लाख व घायलों को 50 हजार रुपये देगी.



शनिवार तड़के हुए हादसे में 24 मजदूरों की हुई मौत 

हादसे के शिकार हुए सभी मजदूर बोकारो के चास प्रखण्ड के रहने वाले थे. ये लोग गोपालपुर, खीराबेड़ा और बाबूडीह गांव के निवासी थे. सभी मजदूर राजस्थान में मार्बल फैक्ट्री में काम करते थे. बता दें कि उत्तर प्रदेश के औरेया में शनिवार तड़के 3 से 3.30 बजे के बीच मजदूरों से भरी एक डीसीएम सड़क पर जा रही थी, इसी दौरान एक ट्रक ने इस गाड़ी को जोरदार टक्कर मार दी. इस हादसे में 24 मजदूरों की मौत हो गई, जबकि 35 से ज्यादा मजदूर घायल हो गये. टक्कर इतनी तेज थी कि इसकी आवाज आसपास के गांव में सुनाई दी. वहीं अंधेरा होने की वजह से मजदूरों को मदद मिलने में देरी हुई. इसलिए कई मजदूरों की इलाज के अभाव में मौत हो गई. टक्कर की वजह से डीसीएम चकनाचूर हो गया. ये मजदूर दिल्ली से गोरखपुर जा रहे थे. सभी मजदूर राजस्थान से दिल्ली पहुंचे थे और यहां से गोरखपुर जा रहे थे.

ये भी पढ़ें- हादसों का प्लांट बनता जा रहा बोकारो स्टील प्लांट, फिर दो मजदूर झुलसे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज