Home /News /jharkhand /

लता मंगेशकर के सम्मान में झारखंड में दो दिवसीय राजकीय शोक का ऐलान, सरकारी कार्यालयों में आधा झुका रहेगा तिरंगा

लता मंगेशकर के सम्मान में झारखंड में दो दिवसीय राजकीय शोक का ऐलान, सरकारी कार्यालयों में आधा झुका रहेगा तिरंगा

सुर साम्राज्ञी भारत रत्‍न लता मंगेशकर का 92 साल की उम्र में निधन हो गया.

सुर साम्राज्ञी भारत रत्‍न लता मंगेशकर का 92 साल की उम्र में निधन हो गया.

Lata Mangeshkar Demise: लता मंगेशकर के निधन पर झारखंड सरकार ने दो दिवसीय राजकीय शोक का ऐलान किया है. इस दौरान राज्य के उन सभी भवनों, जहां नियमित रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराये जाते हैं, पर राष्ट्रीय ध्वज आधे झुके रहेंगे और किसी प्रकार के राजकीय समारोह का आयोजन नहीं किया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

रांची. स्वर कोकिला भारत रत्न लता मंगेशकर के निधन (Lata Mangeshkar Demise) पर झारखंड सरकार ने दो दिवसीय राजकीय शोक का ऐलान किया है. झारखंड सरकार के मंत्रिमंडल सचिवालय एवं निगरानी विभाग ने सभी प्रमंडलीय आयुक्त, उपायुक्त, वरीय पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक को इस बाबत पत्र भेजा है. विभाग के संयुक्त सचिव राजीव रंजन के हस्ताक्षर से जारी पत्र में कहा गया है कि लता मंगेशकर का निधन 6 फरवरी 2022 को ब्रीच कैंडी अस्पताल, मुंबई में हो गया है. दिवंगत लता मंगेशकर के सम्मान में भारत सरकार द्वारा छह फरवरी से दो दिवसीय राजकीय शोक मनाने का निर्णय लिया है. ऐसे में उक्त तिथि को झारखंड राज्य के उन सभी भवनों, जहां नियमित रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहराये जाते हैं, पर राष्ट्रीय ध्वज आधे झुके रहेंगे और किसी प्रकार के राजकीय समारोह का आयोजन नहीं किया जाएगा.

इससे पहले लता मंगेशकर के निधन की खबर सुनकर पूरे झारखंड में शोक की लहर दौड़ गई. हर तरफ से उन्हें श्रद्धांजलि देने का दौर शुरू हो गया. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने लता दीदी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया. मुख्यमंत्री ने लिखा कि लता जी के निधन से मर्माहत हूं. यह देश और देशवासियों के लिए अपूरणीय क्षति है. आज हर किसी की आंखें नम है. लता जी भले ही इस दुनिया में अब नहीं है, लेकिन उनके गाने हमेशा उनकी याद दिलाती रहेगी.

झारखंड के राज्यपाल रमेश बैस ने लिखा- स्वर कोकिला भारत रत्न लता मंगेशकर जी का निधन अत्यंत दुःखद है. उनका जाना देश एवं कला जगत के लिए अपूरणीय क्षति है. पुण्यात्मा को मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि. ईश्वर शोकाकुल परिजनों व उनके असंख्य प्रशंसकों को यह दु:ख सहने की शक्ति प्रदान करें.

पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भी लता मंगेशकर के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा आज का दिन भारत के लिए बहुत ही दुखदाई है. पूरी दुनिया में शोक की लहर है. संगीत जगत आज सुना हो गया है. देश- विदेश में लता दीदी के करोड़ों प्रशंसक हैं. मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि लता दीदी के परिजनों सहनशक्ति प्रदान करे. आने वाले समय में शायद ही उनकी कमी पूरी की जा सके.

पूर्व मुख्यमंत्री व बीजेपी नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा कि केवल सिनेमोजगत ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व की आइकन लता जी के निधन से अपूर्णक्षति पहुंचा है. लता जी की जगह ना कोई ले पाया है और ना कोई आगे चलकर ले पाएगा.

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि लता जी के निधन से पूरा देश शोक में डूब गया है. म्यूजिक इंडस्ट्री को ऐसी गायिका अब शायद ही कभी मिल पाएगी.

Tags: Jharkhand Government, Jharkhand news, Lata Mangeshkar

अगली ख़बर