कोरोना से जंग लड़ रहे डॉक्टरों पर हेमंत सरकार मेहरबान, कैबिनेट से मुहर लगते ही मिलेगा 1 महीने का अतिरिक्त वेतन

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने पिछले महीने ही विधानसभा में डॉक्टरों को अतिरिक्त वेतन देने का ऐलान किया था.

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने पिछले महीने ही विधानसभा में डॉक्टरों को अतिरिक्त वेतन देने का ऐलान किया था.

स्वास्थ्य विभाग के इस प्रस्ताव पर संबंधित विभागों से मंजूरी मिल चुकी है. माना जा रहा है कि कैबिनेट की अगली बैठक में इस पर मुहर लगा दी जाएगी. इसके बाद डॉक्टरों को एक महीने का अतिरिक्त वेतन का लाभ मिलने लगेगा.

  • Share this:
रांची. झारखंड सरकार (Jharkhand Government) कोविड महामारी के दौरान विपरीत परिस्थितियों में काम कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों को एक माह का अतिरिक्त वेतन देगी. इससे संबंधित फाइल को तमाम विभागों से हरी झंडी मिल गई है. अब मामला कैबिनेट में जाएगा, जहां से स्वीकृति मिलने के बाद इस प्रस्ताव को अमल में लाया जाएगा. बता दें कि पिछले महीने ही स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने यह घोषणा की थी. जिस पर मुख्यमंत्री (Hemant Soren) ने भी सहमति दे दी थी.

सरकार के इस कदम का लाभ सूबे के हजारों स्वास्थ्यकर्मियों के साथ-साथ डॉक्टरों को मिलेगा. इससे संबंधित स्वास्थ्य विभाग के प्रस्ताव पर तमाम संबंधित विभागों से मंजूरी मिल चुकी है. मामला अब वित्त विभाग से होते हुए कैबिनेट तक जाएगा. माना जा रहा है कि कैबिनेट की अगली बैठक में इस प्रस्ताव पर मुहर लगा दी जाएगी. इसके बाद स्वास्थ्यकर्मियों को एक महीने अतिरिक्त वेतन का लाभ मिलने लगेगा.

झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दौरान मार्च में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा था कि कोरोना योद्धाओं का राज्य सरकार आदर-सम्मान करती है. हम उन योद्धाओं को शीघ्र चिह्नित करेंगे. जान-जोखिम में डालकर लोगों की सेवा करने वाले चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों को राज्य सरकार एक माह का अतिरिक्त वेतन देगी.

पूर्व मंत्री अमर बाउरी ने अल्पसूचित प्रश्न काल में कई राज्यों का हवाला देते हुए पूछा था कि इन राज्यों में चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों का मनोबल ऊंचा रखने के लिए वित्तीय प्रोत्साहन के रूप में एक माह का अतिरिक्त वेतन दिया जा रहा है. झारखंड सरकार की भी ऐसी कोई मंशा है या नहीं. इसके जवाब में स्वास्थ्य मंत्री ने सदन को यह भरोसा दिलाया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज