Assembly Banner 2021

झारखंड हाई कोर्ट में JPSC में उम्र घटाने की मांग खारिज, अभ्यर्थियों को नहीं मिली राहत

झारखंड हाईकोर्ट ने JPSC में उम्र घटाने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी है.

झारखंड हाईकोर्ट ने JPSC में उम्र घटाने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी है.

झारखंड हाईकोर्ट ने आज अपने एक अहम फैसले में जेपीएससी में उम्र की कट ऑफ डेट घटाने की मांग वाली याचिका को खारिज कर दिया. कोर्ट ने कहा कि सरकार की ओर से तय की गयी कट ऑफ डेट को चुनौती देने का कोई आधार नहीं बनता है.

  • Last Updated: April 7, 2021, 10:36 PM IST
  • Share this:
रांची. झारखंड हाईकोर्ट (Jharkhand High Court) ने आज एक अहम फैसला सुनाते हुए झारखंड पब्लिक सर्विस कमीशन (Jharkhand Public Service Commission-JPSC) में उम्र की कट ऑफ डेट घटाने की मांग वाली याचिका को खारिज कर दी है. मामला JPSC की संयुक्त सिविल सेवा परीक्षा 2021 (Joint Civil Services Exam 2021) का है. जस्टिस डॉ एसएन पाठक की कोर्ट ने कहा कि सरकार की ओर से तय की गयी कट ऑफ डेट को चुनौती देने का कोई आधार नहीं बनता है. साथ ही कहा गया कि सरकार के नीतिगत मामले में हस्तक्षेप नहीं किया जा सकता है.

जस्टिस एसएन पाठक की अदालत ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के जरिये अपना फैसला सुनाया. उम्र की कट ऑफ डेट घटाने की मांग को लेकर प्रार्थी प्रणय कुमार राय और प्रवीण कुजूर ने याचिका दाखिल की थी.  इस फैसले के बाद कट ऑफ डेट की मांग करने वाले अभ्यर्थियों को करारा झटका लगा है. अदालत ने सभी पक्षों को सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था.

सुनवाई के दौरान अधिवक्ता ने अदालत को बताया था कि वर्ष 2020 में संयुक्त सिविल सेवा परीक्षा के लिए निकले गए विज्ञापन में उम्र का कट ऑफ आफ डेट 2011 रखा गया था. कुछ कारणों से सरकार ने इस विज्ञापन को वापस ले लिया है.



आपको बता दें कि JPSC के इस फैसले से वैसे अभ्यर्थी जिनकी उम्र वर्तमान में मांगी गयी कट ऑफ डेट से ज्यादा हो गयी है. उन्हें गहरा झटका लगा है. उन्हें उम्मीद थी कि हाईकोर्ट के फैसले से उन्हें राहत मिलेगी. लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. हाईकोर्ट ने उम्र की कट ऑफ डेट घटाने के मामले में राज्य सरकार के स्टैंड को सही ठहराया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज