विनय महतो हत्याकांड: हाईकोर्ट ने कहा- जांच में तेजी लाए पुुलिस..नहीं तो सीबीआई को दे सकते हैं केस

जस्टिस एके गुप्ता की कोर्ट ने कहा कि अगर पुलिस जांच में तेजी नहीं लाती है, तो इसकी जांच का जिम्मा सीबीआई को दिया जा सकता है.

News18 Jharkhand
Updated: June 13, 2019, 12:36 PM IST
विनय महतो हत्याकांड: हाईकोर्ट ने कहा- जांच में तेजी लाए पुुलिस..नहीं तो सीबीआई को दे सकते हैं केस
विनय महतो (फाइल फोटो)
News18 Jharkhand
Updated: June 13, 2019, 12:36 PM IST
झारखंड हाईकोर्ट ने सफायर इंटरनेशनल स्कूल के छात्र विनय महतो हत्याकांड में पुलिस की जांच पर असंतुष्टि जताई. कोर्ट ने जांच में तेजी लाने का निर्देश देते हुए पुलिस को चार हफ्ते में एफएसएल रिपोर्ट पेश करने को कहा है. जस्टिस एके गुप्ता की कोर्ट ने कहा कि अगर पुलिस जांच में तेजी नहीं लाती है, तो इसकी जांच का जिम्मा सीबीआई को दिया जा सकता है.

सुनवाई के दौरान विनय के पिता मनबहावन महतो के अधिवक्ता रणधीर सिंह ने कोर्ट को बताया कि पुलिस की मंशा सही नहीं है. पुलिस जानबूझकर जांच में देरी लगा रही है. पुलिस ने घटनास्थल से जो खून के छींटे वाले कपड़े एवं अन्य सामान बरामद किये थे. उसकी एफएसएल रिपोर्ट आजतक कोर्ट में जमा नहीं की गई है. पुलिस ने ऐसे लोगों को आरोपी बनाकर जेल भेजा है, जो दूसरे स्कूल के शिक्षक हैं.



इस मामले में निचली अदालत में गवाही चल रही है. जब्त सामानों की जांच के लिए कोलकाता भेजा गया है. पुलिस ने स्कूल की शिक्षिका नाजिया हुसैन, पति आरिफ अली और नाबालिग बेटा-बेटी को आरोपी बनाया था. जुवेनाइल कोर्ट ने दोनों बच्चों को बरी कर दिया. पुलिस ने आरिफ अली और नाजिया हुसैन के खिलाफ 6 मई 2016 को चार्जशीट दाखिल कर दी है. एफएसएल रिपोर्ट नहीं आने के चलते गवाही रूकी हुई है.

बुधवार को विनय महतो का 16वां जन्मदिन था. परिवारवालों ने जन्मदिन मनाया. हत्या के बाद से परिवारवाले उसका जन्मदिन मनाते आ रहे हैं. विनय की हत्या 4 फरवरी 2016 की रात को स्कूल में तब कर दी गई थी, जब स्कूल में वार्षिकोत्सव को लेकर रिहर्सल चल रहा था.

इनपुट- नीरज नयन चौधरी

ये भी पढ़ें- सरकारी राशन नहीं मिलने से मरणासन्न स्थिति में पहुंचा वृद्ध, हाईकोर्ट ने डीसी से मांगा जवाब

फर्जी हॉलमार्क लगाकर बेचे जाते थे सोने के गहने, इस तरह हुआ खुलासा
Loading...

 

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...