Home /News /jharkhand /

jharkhand janjatiya mahotsav tribal festival concludes today hemant soren and chhattisgarh cm bhupesh baghel will attend bruk

Jharkhand: जनजातीय महोत्सव का समापन आज, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल होंगे शामिल

झारखंड जनजातीय महोत्सव का आज समापन समारोह आयोजित होगा. जिसमें छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल उपस्थित होंगे.

झारखंड जनजातीय महोत्सव का आज समापन समारोह आयोजित होगा. जिसमें छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल उपस्थित होंगे.

Jharkhand News: रांची में दो दिवसीय जनजातीय महोत्सव का आज समापन होगा. इसमें देश-विदेश के कलाकार और विद्वान शिरकत कर रहे हैं. कार्यक्रम के पहले दिन मुख्यमंत्री हेमंंत सोरेन  ने कहा कि आदिवासी समाज बिखरा हुआ है. हमारा खून एक है, हमारा समाज एक है तो सब लोगों को एकजुट होना चाहिए.

अधिक पढ़ें ...

रांची. झारखंड में जनजातीय महोत्सव का आयोजन आज समापन है. विश्व आदिवासी दिवस पर पहली बार आयोजित हो रहे झारखंड जनजातीय महोत्सव का आज समापन समारोह आयोजित होगा. जिसमें छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल उपस्थित होंगे. शिबू सोरेन और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की मौजूदगी इस कार्यक्रम को आयोजित किया जाएगा. इससे पहले मंगलवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और गुरुजी शिबू सोरेन ने दीप प्रज्ज्वलित कर इस कार्यक्रम की शुरुआत की थी.

ऐतिहासिक मोरहाबादी मैदान में आयोजित इस दो दिवसीय महोत्सव के शुभारंभ कार्यक्रम में राज्यसभा सांसद महुआ माजी, मंत्री चंपई सोरेन, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, सीएम के सचिव विनय कुमार चौबे सहित कई गणमान्य शामिल हुए थे. रांची के मोरहाबादी में आयोजित दो दिवसीय झारखंड जनजातीय महोत्सव 2022 में समृद्ध जनजातीय जीवन दर्शन की झलकियां देखने को मिल रही है. जनजातीय इतिहास, साहित्य मानवशास्त्र आदि पर संगोष्ठी, सांस्कृतिक रंगारंग कार्यक्रम, कला एवं संगीत, परिधान फैशन शो के माध्यम से आप जल, जंगल, जमीन के संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध आदिवासी परंपरा को और करीब से जान का मौका मिला है.

रांची के मोरहाबादी मैदान में हो रहे इस दो दिवसीय महोत्सव में नार्थ ईस्ट के कलाकार भाग ले रहे हैं. जनजातीय कलाकारों की कला के प्रदर्शन के लिए राज्य सरकार की ओर से कई तैयारियां की . इस समारोह में जनजातीय इतिहास, साहित्य, मानवशास्त्र समेत अन्य विषयों पर संगोष्ठी, कला एवं संगीत, फैशन शो, खान-पान और सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया गया कार्यक्रम में झारखण्ड, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, मिजोरम समेत राज्य के कलाकारों ने पारंपरिक वेशभूषा पहनकर धार्मिक और सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए.

कार्यक्रम का लुत्फ उठाने के लिए बड़ी संख्या में स्कूली छात्र-छात्राएं भी पहुंचे थे. कॉलेज की ज्यादातर छात्राएं लाल पट्टी वाली सफेद साड़ी पहनकर अपनी संस्कृति के प्रति आस्था और लगाव प्रकट करती नजर आईं. कार्यक्रम के शुभारंभ के वक्त विभागीय सचिव केके सोन ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के संदेश को पढ़ा तो पूरा परिसर तालियों से गूंज उठा. पद्मश्री मुकुंद नायक और पद्मश्री मधु मंसूरी ने अपने लोक गीत से लोगों को खूब झुमाया. छऊ नृत्व कलाकारों ने अपनी प्रस्तुति से समा बांध दिया.

Tags: Hemant soren, Jharkhand news, Ranchi news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर