झारखंड महागठबंधन: 'पांच' के पेंच में फंसा सीट शेयरिंग का फॉर्मूला

जेएमएम नेता हेमंत सोरेन दिल्ली में कांग्रेस नेताओं के साथ बैठक कर सीटों के तालमेल पर फाइनल मुहर लगाने की कवायद में जुटे हैं. लेकिन इस राह में पांच सीटों का पेंच रोड़ा बन रहा है.

News18 Jharkhand
Updated: March 15, 2019, 11:51 AM IST
झारखंड महागठबंधन: 'पांच' के पेंच में फंसा सीट शेयरिंग का फॉर्मूला
पांच के पेंच में फंसा सीट शेयरिंग का फॉर्मूला
News18 Jharkhand
Updated: March 15, 2019, 11:51 AM IST
झारखंड महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर माथापच्ची जारी है. जेएमएम नेता हेमंत सोरेन दिल्ली में कांग्रेस नेताओं के साथ बैठक कर इस पर फाइनल मुहर लगाने की कवायद में जुटे हैं. लेकिन इस राह में पांच सीटों का पेंच रोड़ा बन रहा है. गोड्डा, सिंहभूम, जमशेदपुर, पलामू और चतरा वे सीटें हैं, जिन पर घटक दलों में जिच जारी है. सिंहभूम सीट पर कांग्रेस गीता कोड़ा को मैदान में उतारना चाहती है. लेकिन अब जेएमएम ने भी इस पर दावा ठोक दिया है. जमशेदपुर सीट पर भी जेएमएम की दावेदारी है. जबकि यह सीट कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार की है. हालांकि उन्होंने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लिया है. लिहाजा इस सीट पर अंतिम फैसला कांग्रेस को ही लेना है. गोड्डा सीट पर कांग्रेस- जेवीएम में दावेदारी की रार बरकरार है. जेवीएम यह सीट विधायक प्रदीप यादव के लिए चाहता है. वहीं कांग्रेस के फुरकान अंसारी इस सीट से किसी भी हाल में चुनाव लड़ना चाहते हैं. पलामू सीट को लेकर आरजेडी दावा ठोक रहा है, जबकि कांग्रेस पलामू अपने पास रखकर आरजेडी को चतरा सीट देने की फिराक में है.

यानी यही वे पांच सीटें हैं, जिनको लेकर महागठबंधन में सीट शेयरिंग का फॉर्मूल फिक्स नहीं हो पा रहा है. इन सीटों पर जिच खत्म कराने के लिए कवायद जारी है.

रिपोर्ट- नवीन कुमार ये भी पढ़ें- सीट शेयरिंग पर अंतिम मुहर लगाने दिल्ली पहुंचे हेमंत, कांग्रेस नेताओं के साथ बैठक झारखंड महागठबंधन में 7-4-2-1 का फॉर्मूला फिक्स! दो-तीन दिन में होगा औपचारिक ऐलान
Loading...

   
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...