झारखंड: चाईबासा में नक्सलियों ने रेलवे ट्रैक को उड़ाया, मौके पर पहुंची पुलिस

ट्रैक को फिर से मरम्मत करने का काम किया जा रहा है.

ट्रैक को फिर से मरम्मत करने का काम किया जा रहा है.

नक्सलियों ने रेलवे ट्रैक (Railway Track) को बम लगाकर उड़ा (Blast) दिया है. इससे आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 26, 2021, 11:05 AM IST
  • Share this:
रांची. झारखंड के चाईबासा (Chaibasa) में एक बड़ी खबर सामने आई है. यहां पर नक्सलियों ने रेलवे ट्रैक (Railway Track) को बम लगाकर उड़ा (Blast) दिया है. इससे आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई है. वहीं, इस घटना से पुलिस प्रशासन के हाथ- पांव फुल गए हैं. जबकि सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. कहा जा रहा है कि नक्सलियों ने कल रात 2-3 बजे के बीच रेलवे ट्रैक b / w सोनुआ और चक्रधरपुर को उड़ा दिया गया. जानकारी के मुताबिक, ट्रैक को फिर से मरम्मत करने का काम किया जा रहा है.

दरअसल, चाईबासा में इन दिनों नक्सलियों की गतिविधियां बढ़ गई है. बीते मार्च महीने में भी झझारा इलाके में नक्सलियों के आईईडी ब्लास्ट (IED blast) में तीन जवान शहीद हो गए थे, जबकि तीन अन्य जवान घायल हो गए थे. सभी जवान झारखंड जगुआर यूनिट (Jharkhand Jaguwar unit) के थे. इस नक्सली हमले के बाद पुलिस ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन (Search operation) शुरू कर दिया था.



ग्रामीणों की मदद से हो रहा हमला : डीजीपी
नक्सलियों के इस कांड पर झारखंड के डीजीपी नीरज सिन्हा ने कहा था कि नक्सली ग्रामीणों की सहायता से सुरक्षाबलों पर हमला कर रहे हैं. इस मामले में 2 ग्रामीणों को गिरफ्तार किया गया था. हालांकि उन्होंने बताया कि कुछ ही ग्रामीण नक्सलियों के जाल में फंसे हैं. वहीं, घटना के संबंध में डीजीपी ने बताया कि जेसीबी के हाइड्रोलिक पाइप में विस्फोटक और कील-लोहे के टुकड़े भरे गए थे, जिसे सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर चलाया गया. जानकारी के अनुसार नक्सलियों ने गाइडेड बम या फिर क्ले माइंस का इस्तेमाल इस हमले में किया, जो बताता है कि झारखंड के नक्सली अब गुरिल्ला वार करने में दक्ष हो गए हैं. डीजीपी नीरज सिन्हा ने कहा था कि जो अभियान चल रहा है, उसकी वजह से इस तरह के हमले हो रहे हैं. लेकिन इन हादसों से जवानों के मनोबल पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है. नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी जब तक कि उनका पूरी तरह से खात्मा न हो जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज