Jharkhand Panchayat Chunav: तैयारियां शुरू, जानिए कब तक होंगे पंचायत चुनाव

झारखंड में साल 2021 के शुरुआती महीने में ही पंचायत चुनाव कराया जाना था..

Jharkhand Panchayat Election: फिलहाल झारखंड में पंचायत चुनाव को लेकर हालात अनुकूल नहीं है. इस स्थिति में हेमंत सोरेन सरकार फिर से एक बार कार्यकारिणी समिति को अगले 6 माह का अवधि विस्तार देने पर विचार कर रही है.

  • Share this:
रांची. झारखंड में फिलहाल पंचायत चुनाव पर कोरोना संक्रमण की साया देखने को मिल रहा है. अगर दिसंबर तक कोरोना संक्रमण पूरी तरह से नियंत्रण में रहा तो राज्य में पंचायत चुनाव कराया जा सकता है. यानी राज्य के हालात सही रहे तब नवंबर या दिसंबर में सरकार पंचायत चुनाव की ओर कदम बढ़ा सकती है . ग्रामीण विकास विभाग ने इस बावत समीक्षा के दौरान परिसीमन और मतदाता सूची पुनरीक्षण का कार्य पूरा कर लेने का लक्ष्य निर्धारित किया है. झारखंड में साल 2021 के शुरुआती महीने में ही पंचायत चुनाव कराया जाना था, लेकिन कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार ने प्रक्रिया को धीमा कर दिया.

राज्य में पंचायत चुनाव नहीं होने की स्थिति में ग्रामीण विकास विभाग ने पंचायत के जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की संयुक्त कार्यकारिणी समिति बना कर विकास की गाड़ी को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया था. ऐसे कार्यकारिणी समिति के कार्यकाल की अवधि 6 माह तय की गई थी. अब जबकि 31 जुलाई को समिति का कार्यकाल पूरा हो रहा है, तब ग्रामीण विकास विभाग की चिंता बढ़ गई है.

ग्रामीण इलाकों में विकास योजना को धरातल पर उतारने के लिये गांव की सरकार का होना जरूरी है. फिलहाल राज्य में पंचायत चुनाव को लेकर हालात अनुकूल नहीं है. इस स्थिति में राज्य सरकार फिर से एक बार कार्यकारिणी समिति को अगले 6 माह का अवधि विस्तार देने पर विचार कर रही है. ग्रामीण विकास विभाग ने इसके लिये कानूनी सलाह भी मांगा है, ताकि किसी तरह की कोई चूक ना हो जाये. इधर राज्य मुखिया संघ ने भी समिति के कार्यकाल को बढ़ाने की मांग की है. दरअसल पंचायत चुनाव नहीं होने से 15वें वित्त आयोग की राशि का इस्तेमाल सही तरीके से ग्रामीण इलाकों में खर्च नहीं हो पा रहा है. कोरोना संक्रमण की वजह चुनाव नहीं होने की मजबूरी को जनप्रतिनिधि भी समझ रहे है लेकिन वो भी जितनी जल्दी हो सके राज्य में पंचायत चुनाव संपन्न कराना चाहते हैं.