रांची: लालू यादव के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका, अदालत के आदेश की अवहेलना का आरोप
Ranchi News in Hindi

रांची: लालू यादव के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका, अदालत के आदेश की अवहेलना का आरोप
याचिका में कहा गया है कि लालू यादव सैकड़ों लोगों से रोज मिलकर न्यायालय के आदेश की अवहेलना कर रहे हैं. (फाइल फोटो)

याचिका में आरोप लगाया गया कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) लगातार जेल मैनुअल का उल्लंघन कर रहे हैं.

  • Share this:
रांची. रांची हाइकोर्ट (Ranchi High Court) में जेल मैनुअल (Jail Manual) के उल्लंघन करने के आरोप में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के खिलाफ एक लोकहित याचिका (Petition) दाखिल की गई है. मनीष कुमार नाम एक व्यक्ति ने कोर्ट में यह याचिका दाखिल की है. मनीष कुमार ने याचिका में आरोप लगाते हुए कहा है कि आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) लगातार जेल मैनुअल का उल्लंघन कर रहे हैं. साथ ही वे सैकड़ों लोगों से रोज मिलकर न्यायालय के आदेश की अवहेलना कर रहे हैं.

ज्ञात है कि पूर्व में भी लालू प्रसाद यादव ने चारा घोटाला मामले में जेल जाने पर अपने राजनैतिक हनक से शासन का दुरुपयोग किया था. तब वे गिरफ्तार होने के बाद भी बीएमपी गेस्ट हाउस में रह रहे थे. इसके बाद सर्वोच्च न्यायालय ने अविलंब SLP CRL 2296/1998 Order Dated 27.11.1998 के द्वारा न्यायिक आदेश के तहत उन्हें बेऊर जेल भेजा था. इसकी चर्चा आज दाखिल याचिका में भी की गई है.

तेज प्रताप यादव ने रिम्स जाकर की थी मुलाकात
दरअसल, राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव इन दिनों बीमारी के कारण रांची स्थित सिम्स में भर्ती हैं. ऐसे में उनसे आए दिन अस्पताल में कोई न कोई जाकर मिलते रहता है. बीते 27 अगस्त को लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने जेल प्रशासन से विशेष अनुमति लेकर अपने पिता से मुलाकात की थी. इसके बाद बवाला खड़ा हो गया था. जानकारी के मुताबिक, तेज़ प्रताप पर लॉकडाउन के नियमों के उल्लंघन को लेकर रांची के चुटिया थाने में केस दर्ज किया गया है. मामले में तेज़ प्रताप और उनके साथ रांची आए अन्य लोगों पर भी मामला दर्ज किया गया है. कोरोना काल (COVID-19) में पिता से मिलने रांची आना तेज़ प्रताप यादव को महंगा पड़ गया. बताया जा रहा है कि तेज़ प्रताप ने बिहार से झारखंड आने और जाने की अनुमति को लेकर कोई आवेदन नहीं दिया था, जो उनकी परेशानी का सबब बन गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज