• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • जून से अगस्त तक झारखंड में कम हुई बारिश, आज से फिर सक्रिय होगा मानसून

जून से अगस्त तक झारखंड में कम हुई बारिश, आज से फिर सक्रिय होगा मानसून

झारखंड में दो सितंबर से मानसून सक्रिय हो सकता है.

झारखंड में दो सितंबर से मानसून सक्रिय हो सकता है.

Monsoon in Jharkhand : झारखंड में कुछ नदियों का जलस्तर बढ़ा हुआ है, अगस्त के शुरू में कुछ इलाकों में बाढ़ जैसे हालात भी बने, लेकिन फिलहाल कुछ दिनों से बारिश तकरीबन थमी हुई है. रांची समेत किन ज़िलों में बारिश के क्या हालात हैं? जानिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    रांची. दक्षिणी छत्तीसगढ़ में बने कम दबाव के क्षेत्र का विस्तार फिलहाल विशाखापट्टनम तक दिख रहा है, लेकिन इसी क्षेत्र से ही होकर मानसून चूंकि टर्फ लाइन से गुज़र रहा है इसलिए झारखंड के कुछ इलाकों में बेहतर बारिश होने की संभावना है. मौसम विज्ञान विभाग की मानें तो गुरुवार से आसमान में बादल छाए रहेंगे और राज्य के कई हिस्सों में मानसून सक्रिय हो जाएगा. अनुमान यह भी है कि 6 और 7 सितंबर को भारी बारिश हो सकती है. इसके लिए अलर्ट जारी किया जा रहा है तो वहीं, आंकड़े ये भी बता रहे हैं कि कैसे इस मानसून सीज़न के पिछले तीन महीनों में झारखंड में कम बारिश दर्ज हुई है.

    मौसम विभाग के मुताबिक अगले एक हफ्ते के दौरान झारखंड का तापमान भी तीन डिग्री तक कम ज़्यादा होता रहेगा. वहीं, पिछले हफ्ते राज्य में बारिश के चलते नदियों का जलस्तर बढ़ने की खबरें थीं, लेकिन फिलहाल किसी अप्रिय घटना के समाचार नहीं हैं. ताज़ा खबरों की मानें तो 2 सितंबर से राज्य के कई हिस्सों में मानसून सक्रिय हो सकता है. मौसम वैज्ञानिक अभिषेक आनंद के मुताबिक टर्फ लाइन से कम दबाव के क्षेत्र के गुजरने का असर झारखंड में एक से दो दिन के भीतर दिखेगा.

    ये भी पढ़ें : चक्रधरपुर में दुरंतो एक्सप्रेस की चपेट में आया परिवार, चार लोगों के चीथड़े उड़े, लोग रेलवे से नाराज़

    राज्य में कहां हुई कितनी बारिश?
    मानसून सीज़न 1 जून से 31 अगस्त तक के आंकड़े देखें तो झारखंड में 812 मिलीमीटर की अपेक्षा रहती है, लेकिन इस साल अब तक 779 मिलीमीटर बारिश हुई. 33 मिमी कमी के साथ ही चिंता की बात यह है कि यह बारिश राज्य में असमान ढंग से हुई. लोहदरगा ज़िले में 54 फीसदी ज़्यादा पानी बरसा तो गढ़वा, गोड्डा, गुमला, चतरा, पाकुड़, सरायकेला और सिमडेगा अंचलों में 38 फीसदी तक बारिश की कमी दिखाई दी. दूसरी तरफ, रांची में बादल दो दिनों से छाए हुए हैं, लेकिन गौरतलब बारिश नहीं हुई.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज