झारखंड स्टेट बार काउंसिल का निर्देश - एक हफ्ते तक न्यायिक कार्यों से दूर रहें राज्य के वकील

झारखंड स्टेट बार काउंसिल के चेयरमैन राजेंद्र कृष्णा के मुताबिक, आदेश एक हफ्ते तक मान्य रहेगा.

झारखंड स्टेट बार काउंसिल के चेयरमैन राजेंद्र कृष्णा के मुताबिक, आदेश एक हफ्ते तक मान्य रहेगा.

झारखंड स्टेट बार काउंसिल की ओर से जारी निर्देश में झारखंड हाईकोर्ट में कोरोना को लेकर दायर याचिका पर संबंधित वकीलों को उपस्थित रहने की छूट जरूर दी गई है.

  • Share this:

रांची. कोरोना के बढ़ते संक्रमण (Corona infection) को देखते हुए राज्य भर के वकील (lawyers) अगले एक हफ्ते तक न्यायिक कार्यों (judicial work) से दूरी बनाए रखेंगे. इस संबंध में झारखंड स्टेट बार काउंसिल (Jharkhand State Bar Council) की ओर से राज्य भर के सभी जिला बार एसोसिएशन को निर्देश जारी कर दिया गया है. झारखंड स्टेट बार काउंसिल के चेयरमैन राजेंद्र कृष्णा ने यह जानकारी दी है.

कोरोना से जुड़ी याचिकाओं पर उपस्थिति की छूट

झारखंड स्टेट बार काउंसिल की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि इसकी अवहेलना पर डिसिप्लिनरी एक्शन लिया जाएगा. हालांकि बार काउंसिल की ओर से जारी निर्देश में झारखंड हाईकोर्ट में कोरोना को लेकर दायर याचिका पर संबंधित वकीलों को उपस्थित रहने की छूट जरूर दी गई है. लेकिन इसके अलावा अन्य किसी भी मामले में न्यायिक कार्यों से वकीलों को दूर रहने का निर्देश दिया गया है.

बार काउंसिल का आदेश हफ्ते भर मान्य
दरअसल, स्टेट बार काउंसिल के चेयरमैन राजेंद्र कृष्णा की ओर से सभी एसोसिएशन से न्यायिक कार्यों और इससे दूर रहने के संबंध में सुझाव मांगे गए थे. जिसके बाद आज सर्वसम्मति से स्टेट बार काउंसिल की ओर से यह निर्देश जारी किया गया. एक हफ्ते के बाद सभी जिला बार एसोसिएशन हालात और स्थिति के अनुसार न्यायिक कार्यों को लेकर फैसला लेने के लिए स्वतंत्र होंगे. काउंसिल का यह आदेश एक हफ्ते बाद मान्य नहीं होगा. झारखंड स्टेट बार काउंसिल के चेयरमैन राजेंद्र कृष्णा ने यह जानकारी दी है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज