अपना शहर चुनें

States

रघुवर दास के हमले पर JMM का पलटवार- चार्टर्ड प्लेन से पैसे जाते हैं ये कैसे पता, क्या कभी खुद ले गए?

जेएमएम महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि रघुवर दास के राज में झारखंड में 12 मॉब लिंचिंग की घटनाएं हुईं, इसको कौन भुला सकता है. (फाइल फोटो)
जेएमएम महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि रघुवर दास के राज में झारखंड में 12 मॉब लिंचिंग की घटनाएं हुईं, इसको कौन भुला सकता है. (फाइल फोटो)

जेएमएम महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि रघुवर दास (Raghuvar Das) ने अपने पूरे कार्यकाल के दौरान नागपुर, दिल्ली, पटना या फिर कहीं और जाने के लिए चार्टर्ड विमान का ही इस्तेमाल किया. लास वेगास भी सरकारी खर्च पर गए, लेकिन वहां से कोई निवेश नहीं आया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2021, 7:00 PM IST
  • Share this:
रांची. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) के दिल्ली दौरे को लेकर पूर्व सीएम रघुवर दास (Raghuvar Das) के वार पर जेएमएम (JMM) ने पटलवार किया. जेएमएम महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने निशाना साधते हुए कहा कि सीएम के दिल्ली दौरे से सबसे ज्यादा तकलीफ रघुवर दास को हुई है. मुख्यमंत्री रहते हुए रघुवर दास ने पूरे 5 साल तक जमशेदपुर जाने के लिए कभी सड़कमार्ग का इस्तेमाल नहीं किया, बल्कि हेलिकॉप्टर से आते-जाते थे. अपने घर जाने के लिए पूर्व सीएम ने सरकारी हेलिकॉप्टर का दुरुपयोग किया.

सोनिया-राहुल से सिर्फ शिष्टाचार मुलाकात

बीजेपी उपाध्यक्ष रघुवर दास ने सीएम के चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली जाने पर सवाल खड़े किये. और कहा कि बंगाल चुनाव के लिए कांग्रेस के पैसे की जरूरत पूरी करने हेमंत दिल्ली गये थे. इस पर पलटवार करते हुए जेएमएम नेता ने कहा कि चार्टर्ड प्लेन से पैसे जाते हैं ये रघुवर दास को कैसे पता है? क्या वो कभी खुद लेकर गए हैं? सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि निश्चित तौर पर कांग्रेस झारखंड में हमारी सहयोगी है, लेकिन पश्चिम बंगाल की बात कुछ और है. दिल्ली में सीएम ने सोनिया और राहुल गांधी से शिष्टाचार मुलाकात की.



रघुवर दास ने भी किया था चार्टर्ड विमान का इस्तेमाल
जेएमएम नेता ने कहा कि पूरे कार्यकाल के दौरान नागपुर, दिल्ली, पटना या  फिर कहीं और जाने के लिए रघुवर दास ने खुद चार्टर्ड विमान का ही इस्तेमाल किया. लास वेगास भी सरकारी खर्च पर गए, लेकिन वहां से कोई निवेश नहीं आया.



नक्सल हमले और लॉ एंड आर्डर के मुद्दे पर पलटवार करते हुए सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि रघुवर दास के कार्यकाल में कोर्ट परिसर में हत्याएं होती थीं. दिनदहाड़े आगजनी और डाके डाले जाते थे. उन्होंने 2019 में हुई नक्सली घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि बकोरिया कांड रघुवर राज में ही हुआ था. 12 मॉब लिंचिंग की घटनाएं भी हुई थीं.

जेएमएम नेता ने निशाना साधते हुए कहा कि दुबई से लेकर थाईलैंड और बाली से लेकर सिंगापुर तक, सार्वजनिक जीवन जीने वाले लोगों को अपना पासपोर्ट सार्वजनिक कर देना चाहिए कि वो किस-किस जगह पर गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज