लाइव टीवी

PM मोदी की अपील पर जेएमएम ने पूछा- क्या टोना-टोटका से भाग जाएगा कोरोना
Ranchi News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: April 3, 2020, 6:32 PM IST
PM मोदी की अपील पर जेएमएम ने पूछा- क्या टोना-टोटका से भाग जाएगा कोरोना
जेएमएम महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि ताली-थाली और दीया-बाती से कोरोना के खिलाफ जंग नहीं जीती जा सकती. (फाइल फोटो)

जेएमएम (JMM) महासचिव के मुताबिक ताली-थाली और दीया-बाती से कोरोना (Corona) के खिलाफ जंग नहीं जीती जा सकती. क्या घर की सारी बत्तियां बन्द कर देने से कोरोना किसी का घर नहीं पहचान पाएगा या टॉर्च जलाकर देशवासी अपने घर के बाहर निकलकर कोरोना को खोजने का काम करेंगे.

  • Share this:
रांची. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को बढ़ने से रोकने की कवायद के बीच पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने एक बार फिर देशवासियों से आह्वान किया है. इस बार उन्होंने आने वाले रविवार की रात 9 बजे दीये या मोमबत्ती जलाने की अपील की है. लेकिन उनकी इस अपील पर झारखंड (Jharkhand) में सियासी बयानबाजी शुरू हो गई है. झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) ने इसको लेकर पीएम पर सवाल खड़ा किया है. जेएमएम महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्या (Supriyo Bhattacharya) ने कहा कि पीएम का यह संदेश देशवासियों को निराशा की तरफ ले जाने वाला है. विज्ञान और तर्क के इस युग में टोना-टोटका (Black Magic) द्वारा इस महासंकट को टालने की कोशिश या पहल की जा रही है. यह कहीं से भी उचित प्रतीत नहीं होता है.

'पिछली बीजेपी सरकार के चलते राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था खराब' 

जेएमएम नेता के मुताबिक पीएम ने राज्य के मुख्यमंत्रियों से हाल में दो बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये संवाद स्थापित किया. लेकिन दुर्भाग्यवश दोनों ही बार झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) से राज्य की पीड़ा एवं असुविधाओं के संबंध में कोई संवाद नहीं हो सका. पिछली बीजेपी सरकार के चलते राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था चिंताजनक है.



'दीया-बाती नहीं मदद की जरूरत' 



जेएमएम महासचिव के मुताबिक ताली-थाली और दीया-बाती से कोरोना के खिलाफ जंग नहीं जीती जा सकती. क्या घर की सारी बत्तियां बन्द कर देने से कोरोना किसी का घर नहीं पहचान पाएगा या टॉर्च जलाकर देशवासी अपने घर के बाहर निकलकर कोरोना को खोजने का काम करेंगे. यह समय इवेंट का नहीं हो सकता. केंद्र सरकार राज्य सरकार को सही अर्थों में मदद करना चाहती है, तो अविलम्ब पर्याप्त मात्रा में हैंड सेनिटाइजर, N-95 मास्क, स्वास्थ्यकर्मियों के लिए पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट, सैनिटाइजेशन मोबाइल यूनिट, वेंटिलेटर, Covid-19 डिटेक्शन किट, राज्य के बकाया जीएसटी एवं अन्य राशि मुहैया कराए.

'केन्द्र से नहीं मिल रही उचित मदद'

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता (Banna Gupta) ने भी कहा कि संकट के इस समय में अब जरूरत दीया जलाने और थाली बजाने से ज्यादा कोरोना के खिलाफ जंग में संसाधन उपलब्ध कराने की है. स्वास्थ्य मंत्री ने आरोप लगाया कि जितनी मदद केंद्र से मिलनी चाहिए, उतनी नहीं मिल रही है.

रिपोर्ट- उपेन्द्र कुमार

ये भी पढ़ें- कोरोना के खौफ में बिहार के शख्स ने रांची में कर ली खुदकुशी

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 3, 2020, 5:23 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading