• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • 'पीएम मोदी की अगुआई में कोरोना जंग, तो मौत की जिम्मेदारी लेने में झिझक क्यों'

'पीएम मोदी की अगुआई में कोरोना जंग, तो मौत की जिम्मेदारी लेने में झिझक क्यों'

जेएमएम महासचिव सुप्रीयो भट्टाचार्य

जेएमएम महासचिव सुप्रीयो भट्टाचार्य

JMM Attacks Center: जेएमएम महासचिव ने झारखण्ड से बीजेपी के लोकसभा और राज्यसभा सांसदों पर भी कटाक्ष किया. और कहा कि उन्हें शर्म आनी चाहिए कि उन्होंने इस पर कोई आवाज नहीं उठाई.

  • Share this:
रांची. कोरोना (Corona) की दूसरी लहर में ऑक्सीजन के अभाव में मौत पर झारखंड में भी सियासत गर्म है. इस सिलसिले में शुक्रवार को जेएमएम (JMM) ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला. जेएमएम महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने ऑक्सीजन के अभाव में मौत की ऑडिट कराने की मांग की. भट्टाचार्य ने कहा कि देश महामारी से गुजर रहा है, ऐसा वक्त केंद्र के ही दिशा-निर्देश और गाइडलाइन का अनुसरण किया जा रहा है. बावजूद इसके इस तरह का बयान केंद्र सरकार द्वारा दिया जाना गलत है.

जेएमएम नेता ने कहा कि देश प्रधानमंत्री मोदी की अगुवाई में कोरोना की जंग जीती जा रही है, तो मौतों की जिम्मेदारी लेने से केंद्र सरकार क्यों झिझक रही है. इसके साथ ही आईसीएमआर को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जब सारी रिपोर्ट दी जा रही है, तो क्यों नहीं ऑक्सीजन से हुई मौत का आंकड़ा दिया जा रहा है.

जेएमएम महासचिव ने झारखण्ड से बीजेपी के लोकसभा और राज्यसभा सांसदों पर भी कटाक्ष किया. और कहा कि उन्हें शर्म आनी चाहिए कि उन्होंने इस पर कोई आवाज नहीं उठाई. वहीं उन्होंने बीजेपी से देश से माफी मांगने की मांग की. किसानों के आंदोलन पर भी केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया और कहा कि गरीब किसानों को गाली देने का काम किया जा रहा है, जो सही नहीं है. अब बात बर्दाश्त की सीमा से बाहर जा रही है. केन्द्र को अनौपचारिक आपातकाल की औपचारिक घोषणा कर देनी चाहिए.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज