यौन शोषण मामले में जेवीएम विधायक प्रदीप यादव को झटका, झारखंड HC से अग्रिम जमानत याचिका खारिज

यौन शोषण मामले में जेवीएम विधायक प्रदीप यादव को हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है. हाईकोर्ट ने उनकी अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया है.

Nirajnayan Choudhary | News18 Jharkhand
Updated: July 16, 2019, 2:21 PM IST
यौन शोषण मामले में जेवीएम विधायक प्रदीप यादव को झटका, झारखंड HC से अग्रिम जमानत याचिका खारिज
जेवीएम विधायक प्रदीप यादव (फाइल फोटो)
Nirajnayan Choudhary | News18 Jharkhand
Updated: July 16, 2019, 2:21 PM IST
यौन शोषण मामले में झारखंड विकास मोर्चा (जेवीएम) विधायक प्रदीप यादव को हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है. हाईकोर्ट ने उनकी अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया है. ऐसे में अब विधायक को या तो सरेंडर करना होगा या फिर गिरफ्तार हो सकते हैं. देवघर कोर्ट ने उनके खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया है. विधायक की गिरफ्तारी के लिए देवघर पुलिस लगातार कोशिश कर रही है.

देवघर कोर्ट से जारी गिरफ्तारी का वारंट

अपनी ही पार्टी की एक महिला नेत्री ने लोकसभा चुनाव के दौरान प्रदीप यादव पर यौन शोषण करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया था. देवघर पुलिस ने शुरुआती छानबीन में मामले को सच पाया. इस मामले में विधायक ने गिरफ्तारी से बचने के लिए देवघर कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी. लेकिन देवघर कोर्ट ने उसे खारिज कर दिया. इसके बाद पुलिस की पहल पर कोर्ट ने उनके खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया. इस मामले को लेकर प्रदीप यादव को पार्टी महासचिव पद से इस्तीफा भी देना पड़ा.

झारखंड हाईकोर्ट


महिला नेत्री ने दर्ज कराया यौन शोषण का केस 

महिला नेत्री ने अपने आरोप में कहा कि 20 अप्रैल को देवघर के मोहनपुर में महागठबंधन के सम्मेलन में शामिल होने वह गई थीं. कार्यक्रम खत्म होने के बाद विधायक ने उन्हें फोनकर होटल बुलाया और गलत काम किया. हालांकि प्रदीप यादव ने पूरे मामले को अपने खिलाफ राजनीतिक साजिश करार दिया. प्रदीप यादव गोड्डा सीट से लोकसभा चुनाव हार गये.

ये भी पढ़ें- यौन उत्पीड़न के मामले में विधायक प्रदीप यादव पर गिरफ्तारी की तलवार, पुलिस ने मांगा वारंट
Loading...

यौन उत्पीड़न मामले में प्रदीप यादव ने दर्ज कराया बयान

 
First published: July 16, 2019, 1:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...