Home /News /jharkhand /

khiru mahto is the first jharkhandi who will go to rajya sabha from bihar jdu with focus on sthaniya niti and khatiyan issue bruk

Rajya Sabha Elections: भाषा विवाद और स्थानीय नीति पर होगा JDU का फोकस, खीरु महतो कराएंगे झारखंड में वापसी!

Jharkhand Politics: खीरु महतो को भाया बिहार जदयू की ओर से राज्यसभा भेजा जा रहा है.

Jharkhand Politics: खीरु महतो को भाया बिहार जदयू की ओर से राज्यसभा भेजा जा रहा है.

Khiru Mahto: सीएम नीतीश कुमार ने जेडीयू के तरकश से जो तीर से निकाला है वह झारखंड में जदयू को नयी पहचान दिलाने के रूप में इस्तेमाल किया जाएगा. दरअसल नीतीश कुमार ने राज्यसभा चुनाव में खीरू महतो को बिहार से टिकट देने के पार्टी के निर्णय ने सभी को चौंकाया है.

अधिक पढ़ें ...

रांची. झारखंड में अपना जनाधार कमजोर होते देख जेडीयू ने इस बार राज्य सभा चुनाव को लेकर बड़ा दांव खेला है. दरअसल बिहार के सीएम नीतीश कुमार खीरू महतो के सहारे झारखंड में लंबे समय से चल रहे खतियान आधारित नियोजन नीति, भाषा विवाद और बाहरी भीतरी और आदिवासी मूलवासी जैसे मुद्दों को लेकर एक बार फिर से जेडीयू को झारखंड में नयी पहचान दिलाना चाहते हैं. इसलिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने झारखंड जदयू के प्रदेश अध्यक्ष खीरु महतो को बड़ा तोहफा दिया है.

खीरु महतो को भाया बिहार जदयू की ओर से राज्यसभा भेजा जा रहा है. जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के हस्ताक्षर से खीरु महतो की उम्मीदवारी की घोषणा की गई है. मालूम हो कि अलग राज्य बनने के बाद खीरु महतो पहले झारखंडी होंगे जो बिहार से राज्यसभा जाएंगे.

नीतीश कुमार के तरकश से निकला तीर

सीएम नीतीश कुमार ने जेडीयू के तरकश से जो तीर से निकाला है वह झारखंड में जदयू को नयी पहचान दिलाने के रूप में इस्तेमाल किया जाएगा. नीतीश कुमार ने राज्यसभा चुनाव में खीरू महतो को बिहार से टिकट देने के पार्टी के निर्णय ने सभी को चौंकाया है. इससे पहले, वहां केंद्रीय इस्पात मंत्री आरसीपी सिंह को ही तीसरे बार राज्यसभा भेजने की बात सामने आ रही थी. जेडीयू ने खीरू महतो को उम्मीदवार बनाकर भाषा विवाद और स्थानीय नीति को भी नीतीश कुमार साधने का काम किया है.

2005 में JDU के टिकट से जीते थे खीरु महतो 
बता दें, झारखंड के हजारीबाग में जन्मे खीरु महतो झारखंड के पूर्व विधायक रहे हैं. वर्ष 2005 के झारखंड विधानसभा चुनाव में मांडू सीट से इन्होंने जीत दर्ज की थी. जनता दल यूनाइटेड के टिकट से चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे थे. सितंबर 2021 में इन पर पार्टी ने भरोसा जताते हुए झारखंड के प्रदेश अध्यक्ष की कमान सौंपी थी. खीरू के साथ गुलाब महतो को प्रदेश उपाध्‍यक्ष बनाया गया था. इन दोनों को यह जिम्मेदारी जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने सौंपी थी.

Tags: CM Nitish Kumar, Jharkhand news, Jharkhand Politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर