मार्केट में आ गई 'लालू लालटेन', अब आंधी-तूफान में भी नहीं बुझेगी

आरजेडी सुप्रीमो और चारा घोटाला के सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) शनिवार को राजनीतिक तौर पर काफी सक्रिय रहे.

0m Prakash | News18Hindi
Updated: August 10, 2019, 11:34 PM IST
मार्केट में आ गई 'लालू लालटेन', अब आंधी-तूफान में भी नहीं बुझेगी
लालू प्रसाद यादव की पार्टी का चुनाव चिन्ह
0m Prakash | News18Hindi
Updated: August 10, 2019, 11:34 PM IST
शनिवार को झारखंड (Jharkhand) की राजधानी रांची (Ranchi) में काफी दिनों के बाद गहमागहमी देखने को मिली. एक लंबे अर्से के बाद रिम्स (RIMS) के पेइंग वार्ड में राजनीतिक गहमा-गहमी देखी गई. आरजेडी सुप्रीमो और चारा घोटाला के सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) शनिवार को राजनीतिक तौर पर काफी सक्रिय रहे. झारखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant soren) ने शनिवार को लालू से मुलाकात की. हेमंत अपने जन्‍मदिन के मौके पर आशीर्वाद लेने पहुंचे थे, जबकि लालू के पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष उनको 'लालू लालटेन' भेंट करने आए थे.

झारखंड आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष अभय सिंह ने आगामी विधानसभा के मद्देनजर महागठबंधन को मजबूती देने को लेकर आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से मुलाकात की. इस मुलाकात को और खास बना दिया 'लालू लालटेन' ने, जिसे प्रदेश अध्यक्ष ने लालू प्रसाद यादव को भेंट की.

राजद प्रदेश अध्यक्ष ने बताया, 'लालू प्रसाद हमेशा कुछ अलग करते हैं और उसी को ध्यान में रखते हुए उन्होंने भी 'लालू लालटेन' बनवाई है, जो रांची की कुछ दुकानों में भी मिलेगी और लालू के शुभचिंतक और प्रशंसक उसे खरीद सकेंगे. लालटेन के अंदर एक एलईडी लगी हुई है, जो घर को रौशन तो करेगी ही वहीं दूसरी ओर आंधी और तूफान के दौरान भी उसका प्रकाश मिलता रहेगा.

रिम्‍स में इलाज करा रहे लालू प्रसाद यादव फिर से चर्चा में हैं.


हाल के कुछ दिनों में जिस तरह से राजद की स्थिति है, उससे ये लौ राजद को कितना सुकून देगा ये देखना दिलचस्प होगा. लेकिन, शनिवार को राजद सुप्रीमो से मिलने तीन और लोग भी पहुंचे, जिसमें झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन, दरभंगा ग्रामीण के विधायक ललित यादव और आरजेडी झारखंड के प्रदेश अध्यक्ष अभय कुमार सिंह शामिल रहे.

कुल मिलाकर रांची के रिम्‍स में इलाज करा रहे लालू प्रसाद यादव फिर से चर्चा में हैं. झारखंड विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी के खिलाफ चुनावी गोलबंदी को लेकर झामुमो एवं अन्‍य विपक्षी दलों की अब तक कोई राय नहीं बन सकी है. ऐसे में संभव है कि हेमंत सोरेन ने लालू प्रसाद यादव से मिलकर किसी फार्मूले पर बात की हो.
First published: August 10, 2019, 9:50 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...