होम /न्यूज /झारखंड /चारा घोटाला के मामले में लालू यादव की सुनवाई 11 दिसंबर तक टली

चारा घोटाला के मामले में लालू यादव की सुनवाई 11 दिसंबर तक टली

उच्च न्यायालय ने लालू की जमानत पर सुनवाई के दौरान अक्तूबर में जेल प्रशासन से पूछा था कि जेल में रहने के दौरान लालू प्रसाद से कितने लोग मिले हैं. (फाइल फोटो)

उच्च न्यायालय ने लालू की जमानत पर सुनवाई के दौरान अक्तूबर में जेल प्रशासन से पूछा था कि जेल में रहने के दौरान लालू प्रसाद से कितने लोग मिले हैं. (फाइल फोटो)

Fodder Scam Case: चारा घोटाले के दुमका कोषागार मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव (RJD Chief Lalu ya ...अधिक पढ़ें

रांची. चारा घोटाले के मामले में सजायाफ्ता आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (RJD Chief Lalu yadav) को कुछ दिन और जेल में ही रहना पड़ेगा. दुमका कोषागार से गबन के मामले में आज उनकी जमानत याचिका पर हुई सुनवाई कोर्ट ने टाल दी. अब इस मामले पर 11 दिसंबर को सुनवाई होगी. झारखंड हाईकोर्ट (Jharkhand High Court) में हुई सुनवाई के दौरान लालू यादव की जमानत पर फैसला होना था. जिसके बाद उनके जेल से निकलने के कयास लगाए जा रहे थे. चारा घोटाले के इस मामले की सुनवाई वर्चुअल तरीके से हुई. लालू के वकील प्रभात कुमार ने वर्चुअली अपना पक्ष रखा. लालू की तरफ से वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल (Kapil Sibbal) भी पक्ष रख रहे थे. वहीं, सीबीआई (CBI) ने भी सुनवाई के दौरान अपना पक्ष रखा.

हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान लालू प्रसाद के खिलाफ सीबीआई की ओर से हाफ सेंटेंस की अवधि पर सवाल उठाए गए. इसके बाद हाईकोर्ट ने पूरी सजा की अवधि को वेरिफाई करने का निर्देश दिया. अब 11 दिसंबर को पूरी सजा की अवधि के बाद अदालत जमानत को लेकर निर्णय लेगी. सुनवाई के दौरान लालू प्रसाद के वकील प्रभात कुमार ने हाफ सेंटेंस की कुल अवधि की जानकारी कोर्ट को दी.

झारखंड राजद की प्रदेश अध्यक्ष स्मिता लकड़ा ने आरजेडी सुप्रीमो की जमानत पर हुई सुनवाई 11 दिसंबर तक टाले जाने की जानकारी दी. राजद के नेताओं में सुनवाई टलने से मायूसी साफ देखी जा रही थी. आपको बता दें कि दुमका कोषागार मामले में आज जमानत के बाद लालू यादव की जेल से रिहाई के कयास लगाए जा रहे थे. इसको लेकर रांची से पटना तक की सियासत में चर्चाएं चल रही थीं. लेकिन हाईकोर्ट के फैसले के लिए अब राजद समेत अन्य दलों के नेताओं को 11 दिसंबर तक का इंतजार करना पड़ेगा.

Tags: CBI, Fodder scam, Lalu Prasad Yadav

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें