लालू यादव ने एक बार फिर जेल मैन्युअल की उड़ाई धज्जियां, मोबाइल पर बात करते कैमरे में हुए कैद

लालू यादव एक बार फिर केली बंगले में मोबाइल से बात करते हुए देखे गये. (फाइल फोटो)
लालू यादव एक बार फिर केली बंगले में मोबाइल से बात करते हुए देखे गये. (फाइल फोटो)

लालू प्रसाद (Lalu Yadav) की केली बंगले में धूप सेंकने की जो तस्वीर कैमरे में कैद हुई है, उसमें साफ दिखता है कि पास खड़ा एक व्यक्ति राजद सुप्रीमो को मोबाइल पर बात करा रहा है.

  • Share this:
रांची. चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद (Lalu Yadav) इलाज कराने के लिए रिम्स के केली बंगले में भर्ती हैं. कैदी के रूप में रिम्स में इलाज करा रहे लालू प्रसाद एक बार फिर जेल मैन्युअल (Jail Manual) की धज्जियां उड़ाते कैमरे में कैद हुए हैं. चारा घोटाला में सजा काट रहे लालू प्रसाद की केली बंगले में धूप सेंकने की जो तस्वीर कैमरे में कैद हुई है उसमें साफ दिखता है कि पास खड़ा एक व्यक्ति लालू प्रसाद को मोबाइल देता है. जिससे कुछ देर बात करने के बाद लालू उसे वापस कर देते हैं.

सवाल ये कि कैसे किसी कैदी को फोन पर बात करने की इजाजत दी जा सकती है. सवाल ये भी कि लालू प्रसाद की सुरक्षा में लगाये गए बड़ी संख्या में जवान और अधिकारी क्या करते हैं.

पहले भी कई बार जेल मैन्युअल का उल्लंघन करते दिखे हैं लालू



ये पहली बार नहीं है कि लालू प्रसाद जेल मैन्युअल को ताक पर रख बात करते नजर आए हों, इससे पहले 11 जून को अपने जन्मदिन पर वे केक काटते समय व्हाट्स ऐप से अपने परिवारवालों से वीडियो कॉल करते पाए गए थे. 5 अगस्त को जब झारखंड के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स के पेईंग वार्ड को कोरोना वार्ड में तब्दील कर दिया गया था तब से लालू प्रसाद रिम्स अधीक्षक के आधिकारिक आवास केली बंगले में ही रह रहे हैं. जहां से वह खुलेआम फ़ोन से बात करते दिखे हैं.
क्या कहते है राजद के प्रदेश अध्यक्ष?

मोबाइल से बात करते हुए लालू प्रसाद की तस्वीर कैमरे में कैद होने पर सफाई देते हुए राजद के प्रदेश अध्यक्ष अभय कुमार सिंह ने कहा कि राजद सुप्रीमो जेल मैन्युअल और कोर्ट के हर आदेश का पालन करते हैं. वहीं निदेशक आवास में रहने को लेकर अभय कुमार सिंह ने कहा कि कोई केली बंगले में नहीं रहना चाहता, पर भाजपा और विपक्षी दल ये कह रहे थे कि पेईंग वार्ड में लालू प्रसाद 18 कमरे रखे हुए हैं और मरीजों को जगह नहीं मिल रहा. ऐसे में खाली पड़े केली बंगले को कैंप जेल बनाकर लालू प्रसाद को रखा गया.

उधर, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस मामले में सिर्फ इतना कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज