• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • झारखंड सरकार को गिराने की साजिश में शामिल थे नेता और पत्रकार, नेता का भांजा कर रहा था डील

झारखंड सरकार को गिराने की साजिश में शामिल थे नेता और पत्रकार, नेता का भांजा कर रहा था डील

झारखंड सरकार को गिराने की साजिश का भंडाफोड़ होने के बाद अब पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.

झारखंड सरकार को गिराने की साजिश का भंडाफोड़ होने के बाद अब पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.

Jharkhand News: झारखंड की सरकार को गिराने की साजिश का खुलासा होने के बाद पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. एक आरोपी ने पुलिस को दिए बयान में यह बताया है कि कांग्रेस के 11 विधायकों के साथ डील हो रही थी और एक करोड़ रुपये एडवांस देने की बात हुई थी.

  • Share this:
रांची. झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार गिराने की साजिश मामले में नया मोड़ आ गया है. पुलिस ने सरकार के खिलाफ साजिश रचने के मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार किया हैं. लेकिन इस पूरे मामले में अभिषेक दुबे के कबूलनामे ने मामले में जो बताया है वो काफी चौंकाने वाला हैं. क्योंकि इस मामले में महाराष्ट्र के दो नेताओं के नाम भी सामने आए हैं. गिरफ्तार आरोपी ने पुलिस को दिए बयान में यह बताया है कि कांग्रेस के 11 विधायकों के साथ डील हो रही थी और एक करोड़ रुपये एडवांस देने की बात हुई थी.

अभिषेक दुबे ने पुलिस को जानकारी दी  है कि कांग्रेस के विधायक इरफ़ान अंसारी, उमाशंकर अकेला और निर्दलीय विधायक अमित कुमार यादव के साथ वो खुद (अभिषेक दुबे) अमित सिंह और निवारण महतो तीनों दिल्ली गए थे. दिल्ली एयरपोर्ट से जयकुमार नाम शख्स ने रिसीव किया. तीनों विधायक एक इनोवा कार से और अन्य लोग दूसरी गाड़ी से होटल के लिए रवाना हो गए. रांची से दिल्ली जाने के लिए विधायक अमित कुमार यादव को टिकट जय कुमार ने भेजा था, जय कुमार महाराष्ट्र बीजेपी के नेता चंद्रशेखर राव का भांजा है.

कांग्रेस के दोनों विधायक इरफ़ान अंसारी और उमा शंकर अकेला के साथ-साथ विधायक अमित कुमार यादव की दिल्ली में महाराष्ट्र के दो नेताओ चंद्रशेखर राव और चरण सिंह से हुई. दोनों से जय कुमार ने मुलाकात करवाई. अभिषेक दुबे ने जो बयान दिया है. उसके अनुसार इसी मुलाकात में कांग्रेस के विधायकों को एक करोड़ रुपये एडवांस देने का डील हो चूका था, लेकिन कांग्रेस के विधायकों को एडवांस पैसा नहीं मिला तो वे नाराज भी हो गए थे.

बीजेपी के बड़े नेताओं से हुई थी मुलाकात

अभिषेक दुबे ने पुलिस को बताया है कि महाराष्ट्र के दोनों नेताओ से मुलाकात के साथ - साथ बीजेपी के और बड़े नेताओं से उनके आवास पर मुलाकात हुई थी. इस मुलाकात में क्या कुछ बात हुई थी यह जानकारी अभिषेक दुबे ने पुलिस को नहीं दी है. पुलिस फ़िलहाल मामले की तफ्तीश में जुटी है कि आखिर और किन-किन और बीजेपी के नेताओं से दिल्ली में मुलाकात हुई थी. 16 जुलाई को कांग्रेस विधायक रांची लौट आये थे. जानकारी के अनुसार दिल्ली में 15 जुलाई को महाराष्ट्र के दोनों नेताओ और बीजेपी के अन्य नेताओं से मुलाकात करने के बाद 16 जुलाई को रांची लौट आये थे. पुलिस ने विधायकों के आने जाने की पूरी जानकारी जुटाई है.

अभिषेक के पास से मिले थे 2 लाख रुपए

अभिषेक दुबे ने पुलिस को बताया है कि महाराष्ट्र बीजेपी के नेता चंद्रशेखर राव का भांजा जय कुमार, मोहित भारतीय, आशुतोष ठाकुर और विधायक अमित कुमार यादव 21 जुलाई को रांची पहुंचे और होटल ली-लैक में ठहरे थे, और वहींं से विधायकों से बात श्करने की कोशिश की गई है. पुलिस ने जब 22 जुलाई की रात करीब साढ़े आठ बजे होटल ले लैक में छापेमारी की तो वहां से अभिषेक दुबे गिरफ्तार हुआ. पुलिस ने बताया कि अभिषेक जिस कमरे से गिरफ्तार हुआ उसी कमरे से 2 लाख रुपये भी बरामद हुए हैं. वही मामले में रांची के 2 पत्रकारों का नाम भी सामने आया है जिसकी तफ्तीश भी पुलिस कर रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज