Jharkhand: पश्चिमी विक्षोभ के असर से हल्की बारिश, वज्रपात के आसार, मौसम विभाग ने जारी किया यलो अलर्ट

मौसम विभाग ने अलर्ट जारी  कर आज बारिश और ओले पड़ने की संभावना जताई है.

मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर आज बारिश और ओले पड़ने की संभावना जताई है.

Jharkhand Weather Alert: मौसम केंद्र के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ एक बार फिर मौसम पर असर डालेगा. लिहाजा देश के कई राज्यों में बारिश का भी अलर्ट जारी किया गया है. इसका असर से राजधानी रांची समेत प्रदेश के कई हिस्सों में हल्की बारिश और ओलावृष्टि हो सकती है.

  • Last Updated: March 18, 2021, 10:09 PM IST
  • Share this:
रांची. पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) असर एक बार फिर से मौसम पर साफ दिखाई दे रहा है. रांची मौसम केंद्र के मुताबिक, इससे देश के कई राज्यों में बारिश का भी अलर्ट जारी किया गया है.  इसका असर से राजधानी रांची समेत प्रदेश के कई हिस्सों में दिखाई देगा. जहां पर हल्की बारिश और ओलावृष्टि हो सकती है.

पूरे प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ का असर दिखाई दे रहा है. मेघ गर्जन के साथ-साथ कहीं-कहीं हल्की बारिश की भी संभावना है. 21 और 22 मार्च को भी इन्हीं इलाकों में असर रहने की अनुमान है. मौसम विभाग ने पूर्वानुमान 20 मार्च के लिए येलो एलर्ट जारी किया है. इसके अनुसार कहीं-कहीं वज्रपात हो सकता है. इस दौरान न्यूनतम तापमान 20 तथा अधिकतम तापमान 34 डिग्री रहने की संभावना है.

बुधवार को राजधानी का अधिकतम तापमान 32.8 तथा न्यूनतम तापमान 16.3 डिग्री सेल्सियस रहा. इसके अनुसार कहीं-कहीं वज्रपात हो सकता है. इस दौरान न्यूनतम तापमान 20 तथा अधिकतम तापमान 34 डिग्री के आसपास रह सकता है.

हालांकि मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, राज्य में मौसम 18 मार्च तक मौसम शुष्क और आसमान साफ रहेगा. अगले दो-तीन दिनों में दिन और रात के तापमान में तीन से पांच डिग्री सेल्सियस तक बढ़ोत्तरी हो सकती है. लेकिन 19 मार्च से फिर मौसम के मिजाज बदलने की उम्मीद लगायी जा रही है. रांची सहित राज्यों के कई इलाकों में कहीं-कहीं गर्जन के साथ और कहीं-कहीं हल्की बारिश भी हो सकती है.
रांची (Ranchi) में मौसम विज्ञान केंद्र ने येलो अलर्ट जारी करते हुए निर्देश जारी किया है कि इस मौसम को देखते हुए लोग सतर्क एवं सावधानियां बरतें. सुरक्षित स्थानों में शरण लें. पेड़ के नीचे ना रहे हैं, बिजली के खंभों से दूर रहें, किसान अपने खेतों में ना जाएं तथा मौसम सामान्य होने का इंतजार करें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज