होम /न्यूज /झारखंड /मांडर उपचुनाव: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन बोले- हमारा MP- MLA नहीं खून बोलता है

मांडर उपचुनाव: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन बोले- हमारा MP- MLA नहीं खून बोलता है

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सोमवार को मांडर उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी शिल्पी नेहा तिर्की के लिए प्रचार किया.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सोमवार को मांडर उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी शिल्पी नेहा तिर्की के लिए प्रचार किया.

Mandar By election: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने केन्द्र पर हमला बोलते हुए कहा कि आज केंद्र सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वाल ...अधिक पढ़ें

रांची. मांडर उपचुनाव के मैदान पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के चुनावी सभा ने सियासी पारा चढ़ा दिया है. कांग्रेस उम्मीदवार शिल्पी नेहा तिर्की के समर्थन में पूरा महागठबंधन एकजुट नजर आ रहा है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी सोमवार को काफी आक्रामक दिखे. उन्होंने कहा कि हमारा MP – MLA नहीं, खून बोलता है. सदस्यता रद्द कर बंधु तिर्की की लोकप्रियता को खत्म नहीं किया जा सकता. वहीं केंद्रीय एजेंसी को खुली चुनौती देते हुए हेमंत सोरेन ने कहा कि भूमिका बांधने की जरूरत नहीं मैं यहां खड़ा हूं.

मांडर उपचुनाव में सोमवार का दिन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नाम रहा. बारिश के थमते ही लापुंग से लेकर चान्हो तक की चुनावी सभाओं में हेमंत सोरेन बीजेपी और केंद्र सरकार पर जमकर बरसे. हेमंत सोरेन ने कहा कि एक षड्यंत्र के तहत बंधु तिर्की की सदस्यता चली गई, पर बीजेपी के एक विधायक का कुछ नहीं हुआ. ऐसा कर बन्धु तिर्की की लोकप्रियता को खत्म नहीं किया जा सकता है.

उन्होंने कहा कि हमारा MP – MLA नहीं खून बोलता है. आज केंद्र सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वालों की हत्या तक हो रही है. लेकिन हम डरने वालों में से नहीं है. केंद्रीय एजेंसी पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि भूमिका बांधने की जरूरत नहीं मैं यहां खड़ा हूं.

हेमन्त सोरेन ने आगे कहा कि सरना धर्म कोड का प्रस्ताव केंद्र सरकार के पास लंबित है. लेकिन इस सवाल पर बीजेपी और केंद्र सरकार के पास कोई जवाब नहीं है. खनिज संपदाओं की लीज से जुड़े मामले में 1 लाख 36 हजार करोड़ रुपये का बकाया केंद्र सरकार के पास है. केंद्र सरकार से बकाया मिल जाये तो हर व्यक्ति के लिये पैसे का चादर बन जायेगा.

कांग्रेस उम्मीदवार शिल्पी नेहा तिर्की के समर्थन में पूरा महागठबंधन एकजुट दिख रहा है. संयुक्त रूप से चलाए जा रहे चुनावी सभा में नेता और मंत्री राज्य सरकार की योजनाओं को बताने में जुटे है. ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि राशन कार्ड से लेकर पेंशन योजना की सौगात वर्तमान सरकार ने दी है. वहीं श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता ने कहा कि मांडर उपचुनाव में खेला होबे. उन्होंने ये भी कहा कि खेला हो चुका है. बस जीत का रिन्युअल होना बाकी है.

मांडर उपचुनाव में बंधु तिर्की बीजेपी नेता बाबूलाल मरांडी के बयान से नाराज दिख रहे हैं. बाबूलाल मरांडी को बंधु तिर्की खुले मंच से चुनौती देने से भी पीछे नहीं हट रहे हैं. उनका आक्रोश बेटी शिल्पी नेहा तिर्की पर बाबूलाल मरांडी के द्वारा की जा रही अभ्रद टिप्पणी को लेकर है. उन्होंने कहा कि बाबूलाल मरांडी को अब ललबबुआ कहना ज्यादा सही होगा. अगली बार जब वो गांव में आये और बेटी को लेकर टिप्पणी करेंगे, तो उनका कपड़ा उतरवा लिया जाएगा.

शिल्पी नेहा तिर्की भी इस टिप्पणी से नाराज दिख रही है. हालांकि उनका फोकस मांडर की जनता का वोट पाकर बाबूलाल मरांडी को जवाब देना है. शिल्पी नेहा तिर्की ने कहा कि बाबा पर लगे दाग को मिटाना और उनकी लड़ाई को आगे बढ़ाना है.

मांडर विधानसभा सीट पर 23 जून को मतदान होना है. मंगलवार शाम को चुनाव का शोर थम जाएगा. लेकिन इस शोर के थमने से पहले सत्ता पक्ष और विपक्ष ने अपनी ताकत झोंक दी है.

Tags: By election, CM Hemant Soren, Jharkhand news, Ranchi news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें